Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Republic Day Speech : इस गणतंत्र दिवस 2020 पर आप दे सकते हैं ये भाषण

Republic Day Speech : 26 जनवरी 2020 में भारत में 71वां गणतंत्र दिवस (71th Republic Day)मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस पूरे भारत में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

Republic Day Speech : इस गणतंत्र दिवस 2020 पर आप दे सकते हैं ये भाषण
X
Republic Day Speech

Republic Day Speech : गणतंत्र दिवस 2020 (Republic Day 2020) / 26 जनवरी 2020 में भारत में 71वां गणतंत्र दिवस (71th Republic Day) मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस पूरे भारत (India) में हर साल 26 जनवरी (26 January) को हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। 26 जनवरी 1950 (26 January 1950) को देश का संविधान (Constitution Of India) लागू हुआ था। भारत का संविधान दुनिया के गणतांत्रिक देश (Republican Country) का सबसे लंबा लिखित संविधान है। 26 जनवरी के दिन देश के सभी स्कूलों में गणतंत्र दिवस बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। छात्र स्कूलों में इस दौरान प्रतियोगिता में भाग लेते है। छात्रों के सामने यह समस्या आती रहती है कि प्रतियोगिता की तैयारी कैसे करें। अगर आप 26 जनवरी के पर्व पर भाषण देने का मन बना रहे है तो यह खबर आपके लिए है। अगर आप छात्र है तो आप यहां से भाषण प्रतियोगिता की तैयारी कर सकते है।

गणतंत्र दिवस भाषण (Republic Day Speech)

आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकगण, और मेरे सभी प्रिय मित्रों, मेरा नाम शिवम है। आज मैं गणतंत्र दिवस पर भाषण देने के लिए आपके सामने खड़ा हूँ। लेकिन ऐसा करने से पहले मैं यहां मौजूद सभी को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देना चाहूंगा। मैं बहुत रोमांचित हूं जब कुछ दिन पहले मेरे कक्षा शिक्षक ने मुझे बताया था कि आपको 26 जनवरी को भाषण देने के लिए चुना गया है। मैं उत्साहित हूं लेकिन थोड़ा नर्वस भी हूं क्योंकि मैंने अपने स्कूली जीवन में पहले कभी भाषण नहीं दिया।

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आज हम गणतंत्र दिवस के शुभ दिन को मनाने के लिए यहां एकत्रित हुए थे जिसे हम "गणतन्त्र दिवस" के रूप में भी जानते थे और जैसा कि हम सभी जानते हैं कि 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था। डॉ. भीम राव अंबेडकर को हम सभी भारतीय संविधान के पिता के रूप में जानते हैं, वह उस समय के आधुनिक भारत के महानतम नेताओं में से एक थे।

आज हम अपना 71वां गणतंत्र दिवस (71th Republic Day) मना रहे है। जब हमारा संविधान लागू हुआ तो हमारे देश के सामने कुछ मुद्दे थे जो आज भी है,जैसे हम आज भी स्वच्छता, शिक्षा, बेरोजगारी और कई अन्य का सामना कर रहे हैं, लेकिन उनका समाधान करने के लिए सरकार ने कुछ योजनाओं की शुरुआत की है। जैसे बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ, स्किल इंडिया, मेक इन इंडिया और भी बहुत सी योजनाओं की सरकार ने शुरूआत की है। सरकार के साथ हम सभी को एक मजबूत राष्ट्र बनाने के लिए एक कदम उठाना चाहिए।

तो आइए एक प्रतिज्ञा लें कि हम सभी शांति और सद्भाव बनाए रखेंगे और अपने स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को नहीं भूलेंगे। इससे पहले कि मैं अपना भाषण समाप्त करूं, मैं कहना चाहूंगा कि "देशभक्ति सिर्फ परोपकार की तरह है इसे घर पर शुरू करना चाहिए।

धन्यवाद ।

Next Story