Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी आज: सिख संगठनों का ऐलान, पंजाब में कड़ी सुरक्षा के इंतजाम

पंजाब में आज 37 पहले हुए ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी मनाई जा रही है। अमृतसर समेत पूरे पंजाब में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी आज: सिख संगठनों का ऐलान, पंजाब में कड़ी सुरक्षा के इंतजाम
X

पंजाब में आज 37 पहले हुए ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी मनाई जा रही है। इस मौके पर सिख संगठनों ने कई कार्यक्रमों की योजना बनाई है। वहीं दूसरी तरफ अमृतसर समेत पूरे पंजाब में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सबसे ज्यादा सुरक्षा अमृतसर में की गई है। 1984 में 6 जून को स्वर्ण मंदिर परिसर में सैन्य अभियान चलाया था।

अमृतसर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कमिश्नरेट पुलिस ने जानकारी दी है कि पूरे शहर में निगरानी के लिए 6 हजार से ज्यादा पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। 37 साल पहले स्वर्ण मंदिर में छिपे आतंकवादियों के लिए सैन्य ऑपरेशन चलाया गया था।

पुलिस ने हॉल गेट से हेरिटेज स्ट्रीट तक फ्लैग मार्च किया, जो स्वर्ण मंदिर की ओर जाता है। पंजाब सरकार ने पूरे राज्य में सुरक्षा कड़ी कर दी है। खासकर अमृतसर में ज्यादा है। शीर्ष सिख धार्मिक संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने पिछले हफ्ते कहा था कि वह इस साल ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी पर गुरु ग्रंथ साहिब के गोलियों से भरे पवित्र सरूप को प्रदर्शित करेगी।

कई लोगों की गई थी जान

तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी के नेतृत्व में ऑपरेशन ब्लूस्टार चलाया गया था। सूचना मिली थी कि अमृतसर के हरमंदिर साहिब कॉम्प्लेक्स यानी स्वर्ण मंदिर परिसर में आतंकवादी छिपे हुए हैं। आतंकवादियों को बाहर निकालने के लिए सेना ने ऑपरेशन चलाया था। एक जून से 8 जून 1984 के बीच किए गए ऑपरेशन में कई लोगों की जान चली गई थी। कहते हैं कि इस ऑपरेशन के बाद इंदिरा गांधी की उनके दो सिख अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी। इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देश में दंगे भड़के थे। जिसमें कम से कम 3 हजार से ज्यादा सिखों की मौत हो गई थे।

Next Story