Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सभी मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली अपराध के मामले में टॉप पर, दूसरे स्थान पर रहा चेन्नई : रिपोर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2018 में 2,37,660 जमानती मामलों के साथ दिल्ली 18 मेट्रो शहरों में अपराध के मामले में टॉप पर रही है।

सभी मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली अपराध के मामले में टॉप पर, दूसरे स्थान पर रहा चेन्नई : रिपोर्टदिल्ली अपराध के मामले में टॉप पर

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से पता चला है कि 'क्राइम इन इंडिया-2018' के अनुसार मेट्रो शहरों में अपराध के मामले में दिल्ली टॉप पर है। आकंड़ों के मुताबिक राष्ट्रीय औसत 238 था, जबकि राजधानी में प्रति लाख लोगों पर यह 1273 मामले थे।

हिंसक अपराधों में 2018 में पिछले वर्ष की तुलना में मामूली गिरावट देखी गई। हालांकि, मेट्रो शहरों में दर्ज किए गए कुल हिंसक अपराधों में 41% दिल्ली में हुए। 131 के राष्ट्रीय औसत की तुलना में महिलाओं के खिलाफ अपराध दिल्ली में (प्रति लाख जनसंख्या पर 149 मामले) टॉप पर थे।

दूसरे स्थान पर रहा चेन्नई

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2018 में 2,37,660 जमानती मामलों के साथ दिल्ली 18 मेट्रो शहरों में अपराध के मामले में टॉप पर रही है। जमानती मामलों में दिल्ली का हिस्सा 29.6 फीसदी रहा है। आईपीसी और विशेष व स्थानीय कानून (एसएलएल) शामिल हैं।


साल 2016 के बाद से 3 सालों में दिल्ली ने अपराधों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। वहीं साल 2017 में आईपीसी के 2,24,346 मामले दर्ज हुए थे। जबकि साल 2016 में यह आंकड़ा 2,06,135 था। चेन्नई इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है। एनसीआरबी के द्वारा जारी की गई आंकडों के लिस्ट में गुजरात का सूरत और महाराष्ट्र का शहर मुंबई क्रमश: तीसरे और चौथे स्थान पर रहा है।

Next Story
Top