Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मार्स मिशन 2021: मंगल पर नमूने लेने में नाकाम रहा रोवर, नासा ने दिया ये बयान

पहली कोशिश से मिले डाटा का विश्लेषण कर रही टीम से जुड़े लोगों ने कहा है कि चट्टान का नमूना लेने में गलती हुई है। इसी गलती का पता लगाने के बाद रोवर के द्वारा अगली सैंपलिंग का कार्यक्रम निर्धारित किया जाएगा।

मार्स मिशन 2021: मंगल पर नमूने लेने में नाकाम रहा रोवर, नासा ने दिया ये बयान
X

अंतरिक्ष एजेंसी नासा के मार्स रोवर की मंगल ग्रह से चट्टानों के नमूने जुटाने का पहला प्रयास नाकाम हो गया है। रोवर पर्सिवरेंस इसी वर्ष फरवरी कर महीने में लाल ग्रह के जेजेरो क्रेटर के भीतर जीवन संकेतों की खोज के मकसद से उतारा गया था। यह कार के आकार का है।

चट्टानों के नमूने जुटाने में नाकाम रहने के बाद अंतरिक्ष एजेंसी नासा एक बयान जारी किया है। नासा ने कहा है कि रोवर के पृथ्वी पर भेजे गए डाटा से मालूम हुआ है कि मंगल ग्रह पर चट्टान का सैंपल लेने और इसे ट्यूब में बंद करने की शुरुआती सैंपलिंग गतिविधि में ऐसा कोई भी नमूना एकत्र नहीं हो पाया है।

इस नाकामी के बाद वॉशिंगटन में नासा के विज्ञान मिशन निदेशालय के सहयोगी प्रशासक थॉमस जुर्बकेन का कहना है कि पहला परिणाम ही सब कुछ नहीं होता है। किसी भी नए क्षेत्र में जोखिम तो होता ही है। मुझे विश्वास है कि हमारे पास यह काम करने वाली सही टीम है। जोकि आने वाले वक्त में कामयाबी लिए समाधान की दिशा में कोशिश करेगी।

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, पहली कोशिश से मिले डाटा का विश्लेषण कर रही टीम से जुड़े लोगों ने कहा है कि चट्टान का नमूना लेने में गलती हुई है। इसी गलती का पता लगाने के बाद रोवर के द्वारा अगली सैंपलिंग का कार्यक्रम निर्धारित किया जाएगा।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि रोवर के साथ कुल 43 टाइटेनियम सैंपल ट्यूब भेजी गई। और वह जेजेरो क्रेटर की खोज कर रहा है। वहां यह चट्टान और रेगलिथ (टूटी चट्टान और धूल) के नमूने जुटाएंगे, जिनका भविष्य में पृथ्वी पर विश्लेषण किया जाएगा।

Next Story