Logo
Chunav 2024: आरोपी प्रशांत जगदेव ओडिशा के खोरधा विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक उम्मीदवार है। 2022 में जगदेव जब बीजू जनता दल (बीजेडी) में थे, तब उन पर हत्या के प्रयास का आरोप लगा था। 

Chunav 2024: ओडिशा पुलिस ने रविवार को खोरधा विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक उम्मीदवार प्रशांत जगदेव को गिरफ्तार कर लिया। उन पर शनिवार को विधानसभा चुनाव में वोटिंग के दौरान इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को गिराने और दो पोलिंग ऑफिसर्स के साथ मारपीट करने का आरोप है। पुलिस ने कहा कि जगदेव ने मतदान के वक्त कथित तौर पर खोरधा जिले के बोलागढ़ ब्लॉक के कौंरीपाटन स्थित बूथ क्रमांक 114 में ईवीएम समेत अन्य संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। एक महिला समेत दो मतदान कर्मियों पर हमला किया।

पीठासीन अधिकारी और महिला कर्मी को पीटा
ओडिशा के मुख्य चुनाव अधिकारी (CEO) निकुंज बिहारी धल ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि बीजेपी कैंडिडेट जगदेव ने उस मेज को लात मारी जिस पर ईवीएम रखी हुई थी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) संजय कुमार ने कहा- मतदान केंद्र पर वेबकास्टिंग सिस्टम की जांच में आरोपी उम्मीदवार को एक महिला मतदान कर्मचारी और पीठासीन अधिकारी के साथ मारपीट करते देखा जा सकता है।

गिफ्तारी के दौरान BJP प्रत्याशी ने की भागने की कोशिश
इसे लेकर बूथ पर तैनात पीठासीन अधिकारी मनोरंजन त्रिपाठी ने एफआईआर दर्ज कराई है। जिसके आधार पर पुलिस ने प्रशांत जगदेव को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तारी के दौरान जगदेव ने भागने की कोशिश की। पुलिस ने आरोपी जगदेव के खिलाफ आईपीसी की अलग-अलग धाराओं के तहत केस दर्ज किया है, जिसमें चोट पहुंचाने के लिए हमला करना, अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल, महिला पर आपराधिक बल प्रयोग जैसे आरोप शामिल हैं। जानबूझकर चुनाव प्रक्रिया में बाधा डालने का भी आरोप है।

2022 में जगदेव पर पार्टी वकर्स पर गाड़ी चढ़ाने का आरोप

  • हालांकि, जगदेव के समर्थकों ने आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताया है। आरोप लगाया है कि पीठासीन अधिकारी ने कई मतदाताओं के साथ दुर्व्यवहार किया और विधायक के साथ भी ऐसा ही किया। उन्होंने घटना की सीसीटीवी फुटेज सबके सामने रखने की मांग की है। 
  • बता दें कि 2022 में जगदेव जब बीजू जनता दल (बीजेडी) में थे, तब उन पर हत्या के प्रयास का आरोप लगा था। उन्होंने कथित तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर अपनी एसयूवी चढ़ाने की कोशिश की थी। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और बीजेडी ने जगदेव को पार्टी से निष्कासित कर दिया था।
jindal steel Ad
5379487