Logo
Manipur Violence: मणिपुर की राजधानी इंफाल में रिटायर्ड आईएएस और गोवा के पूर्व मुख्य सचिव दिवंगत थांगखोपाओ किपगेन के घर को आग के हवाले कर दिया गया।

Manipur Violence: देश के पूर्वोत्तर राज्य में शांति बहाल करने की कोशिशें नाकाब रही हैं। पिछले दिनों संघ प्रमुख डॉ. मोहन भागवत भी इसे लेकर चिंता जता चुके हैं। उन्होंने इशारों में केंद्र सरकार की कार्यप्रणाली पर गंभीर तौर पर सवाल खड़े किए हैं। इसबीच, शनिवार को एक और बड़ी हिंसात्मक घटना हुई। जिसमें कुछ अज्ञात हमलावरों ने मुख्यमंत्री आवास के पास एक सीनियर रिटायर्ड आईएएस के घर को आग के हवाले कर दिया। यह मकान बाबूपारा स्थित न्यू मणिपुर सचिवालय कार्यालय भवन के ठीक पीछे स्थित है।

टाइट सिक्योरिटा वाले इलाके में कैसे हुई घटना?
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मणिपुर के इंफाल शहर में सेवानिवृत्त आईएएस और गोवा के पूर्व मुख्य सचिव टी किपगेन का घर जला दिया गया। इससे कुछ ही दूरी पर ओल्ड लाम्बुलेन में मुख्यमंत्री आवास स्थित है। कड़ी सुरक्षा वाले इलाके में इस तरह की वारदात राज्य में कानूनी व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े कर रही है।

आग लगी या लगाई गई, इसकी जांच जारी: पुलिस

  • जांच अधिकारियों ने कहा है कि फिलहाल घटना की जांच की जा रही है। आग लगी है या लगाई गई है, इसके कारणों का पता लगाया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, आग में जला घर गोवा के पूर्व मुख्य सचिव दिवंगत थांगखोपाओ किपगेन का था। 3 मार्च 2005 को किपगेन का निधन हो गया और अभी यह घर उनके परिवार के कब्जे में है।
  • बता दें कि आईएएस का घर कुकी इन कॉम्प्लेक्स के पास स्थित है, जो इंफाल के बाबूपारा में मणिपुर के मुख्यमंत्री आवास के ठीक सामने है। घटना शनिवार शाम करीब 5.30 बजे की है। मणिपुर में जारी हिंसा के बाद से यहां रहने वाले लाखों लोग अपना घर बार छोड़कर चले गए हैं।

आग को लेकर दमकल के अफसरों ने क्या बताया?
मणिपुर फायर सर्विस ने सूचना मिलने पर आग को काबू किया। चूंकि घर की छत गैल्वनाइज्ड टिन के साथ लकड़ी से बनी थी, इसलिए दमकल कर्मियों को आग बुझाने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। दमकल अधिकारियों ने कहा कि घर एक साल से खाली पड़ा था, इसलिए आग को बुझाना और उस पर काबू पाना मुश्किल था।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487