Logo
election banner
Suvendu Adhikari Khalistani Remarks: सुवेंदु अधिकारी को उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखली का दौरा करने से रोकने के लिए धमाखली में एक सिख आईपीएस अधिकारी को तैनात किया गया था। अधिकारी के साथ भाजपा विधायक अग्निमित्र पॉल भी थे। उन्होंने दावा किया कि पुलिस अधिकारी अपने कर्तव्यों का पालन नहीं कर रहे थे।

Suvendu Adhikari Khalistani Remarks: पश्चिम बंगाल में संदेशखाली विवाद के बीच एक और मामले ने तूल पकड़ लिया है। भाजपा के नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी द्वारा आईपीएस अफसर को कथित तौर पर खालिस्तानी कहने का मामला अदालत पहुंच गया है। अपने ऊपर लगे आरोप का जवाब देते हुए सुवेंदु अधिकारी ने एडीजी (दक्षिण बंगाल) को चुनौती दी है कि वह 24 घंटे के भीतर अपने आरोप को साबित करें कि एक सिख पुलिस अधिकारी को अपशब्द कहा गया, वरना गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें। सुवेंदु ने चेतावनी देते हुए कहा कि वे आईपीएफ अफसर के खिलाफ लीगल एक्शन लेंगे। 

वहीं, एडीजी सुप्रतिम सरकार का भी बयान आया है। उन्होंने कहा कि मंगलवार सुबह धमाखली में धारा 144 लागू करने के लिए पुलिस बल था। इसका नेतृत्व आईपीएस जसप्रीत सिंह, एसएपी इंटेलिजेंस ब्रांच कर रहे थे। वहां विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी सहित कई विधायक थे। धमाखली में पुलिस अधिकारी जसप्रीत सिंह के साथ बहस हुई। इस दौरान सुवेंदु ने पुलिस अधिकारी को खालिस्तानी कहा जो किसी राजनीतिक व्यक्ति को शोभा नहीं देता है। हम इसका विरोध करते हैं। इस गंभीर टिप्पणी के लिए हम उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे। 

अमित मालवीय ने सुवेंदु का वीडियो किया शेयर
भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने एक्स पर सुवेंदु अधिकारी का वीडियो पोस्ट किया है। जिसमें सुवेंदु कहते नजर आ रहे हैं कि एडीजी (दक्षिण बंगाल) 24 घंटे के भीतर अपने आरोप को साबित करें कि एक सिख पुलिस अधिकारी पर अपमानजनक टिप्पणी की गई।  अन्यथा परिणाम भुगतने को तैयार रहें।

अमित मालवीय ने लिखा कि पश्चिम बंगाल की पुलिस ममता बनर्जी की एकमात्र ढाल ढह रही है। उन्हें अब पीछे हट जाना चाहिए।  

धमाखली में सुवेंदु को रोका गया था
दरअसल, पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी को उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखली का दौरा करने से रोकने के लिए धमाखली में एक सिख आईपीएस अधिकारी को तैनात किया गया था। अधिकारी के साथ भाजपा विधायक अग्निमित्र पॉल भी थे। उन्होंने दावा किया कि पुलिस अधिकारी अपने कर्तव्यों का पालन नहीं कर रहे थे।

ममता ने कहा- भाजपा के लिए हर पगड़ीवाला खालिस्तानी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी भाजपा पर निशाना साधते हुए वे सोचते हैं कि पगड़ी पहनने वाला हर व्यक्ति खालिस्तानी है। मुख्यमंत्री ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि आज भाजपा की विभाजनकारी राजनीति ने संवैधानिक सीमाओं को बेशर्मी से लांघ दिया है। भाजपा के अनुसार पगड़ी पहनने वाला हर व्यक्ति खालिस्तानी है।

घटना की निंदा करते हुए बनर्जी ने कहा कि मैं हमारे सिख भाइयों और बहनों की प्रतिष्ठा को कमजोर करने के इस दुस्साहसिक प्रयास की कड़ी निंदा करती हूं, जो हमारे राष्ट्र के लिए उनके बलिदान और अटूट दृढ़ संकल्प के लिए सम्मानित हैं। हम बंगाल की सामाजिक सद्भाव की रक्षा के लिए दृढ़ हैं और कड़े कानूनी कदम उठाएंगे।

5379487