Logo
How to Make Chaas: आजकल ज्यादातर लोग दही से छाछ बनाकर पीते हैं। इसके लिए छाछ बनाने का सही तरीका जानना जरूरी है वरना छाछ पीने का पूरा फायदा नहीं मिल पाएगा।

How to Make Chaas: गर्मी के दिनों में दही और छाछ का सेवन काफी बढ़ जाता है। शरीर के लिए दही से ज्यादा छाछ फायदेमंद होती है। छाछ पीने से पाचन में सुधार होने के साथ ही पेट की गर्मी को शांत करने में मदद मिलती है। यही वजह है कि लोग आजकल दही से ही छाछ बनाने लग गए हैं। दही से छाछ बनाकर पीना फायदेमंद तो होता है, लेकिन अगर छाछ सही तरीके से नहीं बनी हो तो इसका शरीर को पूरा लाभ नहीं मिल पाता है। 

दही को मथकर मक्खन पूरी तरह से निकल जाने के बाद बचा हुआ पानी छाछ कहलाता है। आप अगर घर पर दही से छाछ बनाएं तो इस बात का ख्याल रखें। दही को ठीक से न मथा जाए और उससे मक्खन अलग न हो तो ये पूरी तरह से छाछ नहीं बन पाती है। आइए जानते हैं दही से छाछ बनाने का सही तरीका। 

दही से छाछ कैसे बनाएं? 
दही से छाछ बनाने का तरीका बहुत सरल है और इसे आसानी से अपनाया जा सकता है। दही से छाछा यानी मट्ठा बनाने के लिए एक कटोरी दही लें और इसी के अनुपात में एक गिलास पानी लें। आप अगर दो कटोरी दही लेंगे तो छाछ बनाने के लिए 2 गिलास पानी लेना होगा। 

इसे भी पढ़ें: Aam Ka Achar: आम का अचार डालने में आप तो नहीं करते ये गलती, सालभर नहीं टिकेगा, मेहनत पर फिर जाएगा पानी

अब एक बड़ा बर्तन लें और उसमें एक कटोरी दही डालें और उसमें एक गिलास पानी मिक्स कर दें। अब मथनी लें और उससे दही-पानी को कम से कम 10 मिनट तक अच्छी तरह से मथें।

आप एकदम प्योर छाछ बनाना चाहते हैं तो दही को तब तक मथें जब तक कि मक्खन ऊपर न आ जाए। इसके बाद मक्खन अलग कर लें। वहीं, आप छाछ को टेस्टी बनाए रखना चाहते हैं तो इसका मक्खन न निकालें। 

इसे भी पढ़ें: Sattu Ka Sharbat: सत्तू का नमकीन शरबत शरीर में घोल देगा ठंडक, पीते ही खुल जाएगा दिमाग, बड़े फायदे के लिए ऐसे बनाएं

मक्खन को छाछ से न निकालते हुए इसे अच्छी तरह से मथते रहें। दही को 15 मिनट तक मथने के बाद छाछ तैयार हो जाएगी। ये छाछ पीने के लिहाज से बेहद हेल्दी रहेगी। इसका स्वाद बढ़ाने के लिए छाछ में काला नमक, भुना जीरा पाउडर, चुटकीभर चीनी और हरी धनिया पत्ती डाली जा सकती है। तेज गर्मी में एक दो बर्फ के टुकड़े डालकर छाछ सर्व कर सकते हैं। 

jindal steel hbm ad
5379487