Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अगर आप भी खड़े होकर पानी पीते हैं, तो हो जाइए सावधान

ज्यादातर लोग अक्सर घर में, ऑफिस में, मेट्रो में खड़े-खड़े ही पानी पीते हैं।

अगर आप भी खड़े होकर पानी पीते हैं, तो हो जाइए सावधान

पानी पीना हमारे सेहत के लिए फायदेमंद हैं। बचपन से हमें बताया जाता है कि पानी पीने से पेट से जुड़ी सारी बीमारियां दूर हो जाती हैं।

आज कल की भागदौड़ और बिजी लाइफ में लोगों के पास दो मिनट सुकून से बैठने के लिए टाइम नहीं है। ऐसे में लोग अक्सर घर में, ऑफिस में, मेट्रो में खड़े-खड़े ही पानी पी लेते हैं।

खड़े होकर पानी पीना तमाम बीमारियों को दावत दे सकता है। जानिए खड़े होकर पानी पीने के नुकसान..

यह भी पढ़ें: पेट कम करने के 5 अचूक उपाय

किडनी पर असर

बॉडी में किडनी पानी को छानने का काम करती है। खड़े होकर पानी पीने से किडनी सही तरीके से पानी नहीं छान पाती। लगातार ऐसा होने से ब्लड में गंदनी जमने का डर रहता हैं और इससे मूत्राशय, दिल और गुर्दे की बीमारी होने का खतरा है।

पेट पर बुरा असर

खड़े होकर पानी पीने से पानी तेजी से पेट की अंदरूनी दीवार पर जाता है। इससे पेट के आसपास के अंगों पर नुकसान हो सकता है। लगातार खड़े होकर पानी पीने से पाचन तंत्र भी बिगड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: ज्यादा प्याज खाने वालों को करना पड़ सकता है इन दिक्कतों का सामना

गठिया और जोड़ों का दर्द

लगातार खड़े होकर पानी पीने हैं से आर्थराइटिस जैसी बीमारी से सामना करना पड़ सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि खड़े होकर पानी पीने से शरीर में तरल पदार्थ का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे जोड़ों में मौजूद तरल पदार्थों का संतुलन बिगड़ता है, जिससे जोड़ों में दर्द और गठिया की समस्या झेलनी पड़ सकती है।

जल्दी लगती है प्यास

व्यावहारिक तौर पर देखा जाए तो खड़े होकर पानी पीने से प्यास जल्दी नहीं बुझती और जल्दी-जल्दी प्यास लगती है।

खड़े होकर पानी पीने से अपच

खड़े-खड़े पानी पीने से पेट को आराम नहीं मिलता और पेट पर अधिक जोर पड़ता है। जबकि बैठ कर पानी पीने से पेट को आराम मिलता है और पाचन क्रिया सही रहती है।

बढ़ जाता है एसिड

खड़े होकर पानी पीने से हमारी बॉडी शरीर में बनने वाले एसिड को सही से कंट्रोल नहीं कर पाती। इससे बॉडी में एसिड बढ़ जाते हैं और एसिडिटी के साथ कई प्रॉब्लम्स होती हैं।

Next Story
Share it
Top