Logo
election banner
Salman khan Firing Case: बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान के घर पर हुई फायरिंग में इस्तेमाल की एक बंदूक और कारतूस गुजरात के सूरत की तापी नदी से मिली है और आरोपी ने खुद बताया है कि अंजाम देने के बाद बंदूक नहीं में फेंक दी थी।

Salman khan Firing Case: बॉलीवुड सुपरस्टार और दंबग एक्टर सलमान खान के गलैक्सी आपार्टमेंट में 14 अप्रैल की सुबह फायरिंग की वजह से  हड़कंप मच गया था। वहीं दो अज्ञात बाइकसावर घर के हवा में फायरिंग करके भाग गए थे। लेकिन इस घटना में शामिल हुए दोनों हमलावरों को पुलिस ने पकड़ लिया है और मामले की जांच लगातार मुंबई पुलिस कर रही हैं। इसी बीच फायरिंग केस में एक नया अपडेट सामने आया है। 

सूरत के तापी नदी से बंदूक-कारतूस 
दरअसल, मुंबई पुलिस को फायरिंग में इस्तेमाल की गई एक बंदूक और कारतूस गुजरात के सूरत की तापी नदी से मिली है। इस मामले की जांच में जुटी मुंबई पुलिस ने आरोपी विक्की गुप्ता से काफी सकती से पूछताछ की है और उसे तापी नदी ले जाया गया था। वहीं नदी में की गई छानबीन के बाद बंदूक और कारतूस को बरामद कर लिया गया है। हलांकि, अब आरोपियों के खिलाफ बड़े सबूत हाथ लग गए हैं। ऐसे में अब जल्द ही दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जायेगा।

जांच के लिए सूरत पहुंची मुंबई क्राइम ब्रांच टीम
सलमान खान के घर के बाहर हुई फायरिंग के बाद से ही मुंबई क्राइम ब्रांच और मुंबई पुलिस तेजी से अपनी जांच कर रही थी। वहीं क्राइम ब्रांच को आरोपियों ने पूछताछ के दौरान बताया कि फायरिंग करने के बाद उन्होंने बंदूक को सूरत के तापी नदी में फेंकी थी। जिसके बाद उस बंदूक की तलाश में मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम गुजरात पहुंची।

दोनों आरोपियों ने अपने बयान किया था स्वीकार
इस घटना के अगले दिन ही दोनों आरोपियों को गुजरात के भुज से गिरफ्तार कर लिया गया था और दोनों से की गई पूछताछ में बड़ी जानकारी पुलिस को हाथ लगी। दोनों आरोपियों ने अपने बयान में किया और बताया था कि ''सलमान खान को मारना उनका मकसद नहीं था, बल्कि वो तो बस उन लोगों ने भाईजान को डराने के लिए घर के बाहर फायरिंग की थी।'' दोनों को लॉरेंस बिश्नोई के ग्रुप का हिस्सा बताया गया। मुंबई पुलिस अपनी पूछताछ में बिश्नोई गैंग के आगे की प्लानिंग के बारे में भी पूछताछ कर रही है।

jindal steel Ad
5379487