Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

14 एनआईटी संस्थानों में बढ़ेगी लड़कियों की संख्या

देश के 14 राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (एनआईटी) में अब ज्यादा संख्या में लड़कियां दाखिला लेकर पढ़ाई कर सकेंगी।

14 एनआईटी संस्थानों में बढ़ेगी लड़कियों की संख्या

देश के 14 राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (एनआईटी) में अब ज्यादा संख्या में लड़कियां दाखिला लेकर पढ़ाई कर सकेंगी। क्योंकि एनआईटी काउंसिल ने अपनी हालिया हुई बैठक में इनमें लड़कियों के लिए 14 फीसदी सीटें रखना अनिवार्य कर दिया है।

यह वह एनआईटी संस्थान हैं जहां लड़कियों की संख्या निधार्रित 14 फीसदी के मानक से कम है। एचआरडी मंत्रालय के एक उच्चपदस्थ अधिकारी ने हरिभूमि को बताया कि इस निर्णय से 14 एनआईटी में लड़कियों के लिए 950 सीटें बढ़ जाएंगी। पहले सीटों का प्रतिशत 9 था और संख्या 1 हजार 710 थी। अब इसमें 5 फीसदी के इजाफे के साथ यह कुल 2 हजार 660 सीटें हो जाएंगी।

सभी 31 एनआईटी संस्थानों में लैंगिग समानता लाने के लिए यह फैसला लिया गया है। इसके तहत दाखिला अगले वर्ष से शुरू हो रहे शैक्षणिक सत्र 2018-19 से दिया जाएगा। एनआईटी में सीटों की कुल संख्या 19 हजार है।

आईआईटी, एनआईटी में होगी समानता

इस निर्णय के पीछे केंद्रीय एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की अहम भूमिका है। उन्होंने ही एनआईटी काउंसिल की बैठक की अध्यक्षता करते हुए इन 14 संस्थानों में भी लड़कियों की सीटों की संख्या में 5 फीसदी इजाफे के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।

साथ ही उन्होंने कहा था कि इससे एनआईटी में भी आईआईटी की तरह ही लड़कियों के दाखिले के लिए 14 फीसदी सीटें हो जाएंगी। यह दोनों संस्थानों में समानता लाएगा।

इन एनआईटी में बढ़ेंगी सीटें

यह निर्णय एनआईटी कुरूक्षेत्र, दिल्ली, जालंधर, इलाहबाद, गोवा, सूरतकल (कर्नाटक), पटना, सिक्किम, जमशेदपुर, मणिपुर, मिजोरम, सिलचर, श्रीनगर, उत्तराखंड जैसे संस्थानों में लागू होगा।

काउंसिल द्वारा बैठक में लिए गए एक अन्य निर्णय के हिसाब से वर्ष 2020 तक सभी एनआईटी संस्थानों में लड़कियों के लिए सीटों की संख्या बढ़ाकर 20 फीसदी करने की है। इसमें अगले वर्ष 2018 से 14 फीसदी सीटों का फैसला लागू होने के बाद हर साल लड़कियों के लिए 3 फीसदी सीटें बढ़ायी जाएंगी।

इसमें 2018 में 14, 2019 में 17 फीसदी और 2020 में 20 फीसदी हो जाएंगी। देश में अभी कुल 31 एनआईटी संस्थान हैं, जिनमें दाखिला लेने के लिए 12वीं कक्षा के बाद जेईई मेंस की परीक्षा पास करने के बाद दाखिला लिया जाता है।

Next Story
Share it
Top