logo
Breaking

मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

सीबीएसई ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट पर मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायलय में याचिका दायर की है।

मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने नीट 2018 के मामले में उच्चतम न्यायालय का दरबाजा खटखटाया है। सीबीएसई ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट पर मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायलय में याचिका दायर की है।

मद्रास हाईकोर्ट ने मंगलवार को तमिल भाषा में नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस एग्जाम (नीट) देने वाले सभी तमिल परीक्षार्थियों को 196 अंक अधिक देने का आदेश दिया था और परीक्षार्थियों की रैकिंग में सुधार कर दोबारा से जारी करने के लिए कहा था।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मद्रास हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद नीट यूजी की काउंसिलिंग प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी। उच्चतम न्यायालय के फैसले पर ही दोबारा प्रवेश प्रक्रिया चालू होगी।

यह भी पढ़ेंः NEET 2018: मद्रास हाईकोर्ट ने नीट अभ्यार्थियों को दी बड़ी राहत, मिलेंगे अब अधिक अंक

हाईकोर्ट ने सीबीएसई को आदेश दिया कि तमिल भाषा में नीट एग्जाम देने वाले परीक्षार्थियों के पेपर में 49 प्रश्न गलत थे। हाई कोर्ट ने एक गलत प्रश्न के 4 अकं देने के लिए सीबीएसई को आदेश दिया।

यह था मामला

सीबीएसई ने 6 मई नीट परीक्षा ओयोजित कराई थी उसमें तमिल भाषा में नीट एग्जाम देने वाले 24 हजार 720 परीक्षार्थियों के पेपर में 49 प्रश्न गलत थे। माकपा नेता टीके रंगराजन की जनहित याचिका में हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी।

Share it
Top