Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इन वजहों से लखनऊ यूनिवर्सिटी के दो प्रोफेसरों की न्युक्तियां हुई रद्द

प्रोफेसर की नियुक्ति को राजभवन ने गलत बताया है और लखनऊ यूनिवर्सिटी को एक महीने के अन्दर हटाने का आदेश दिया है।

इन वजहों से लखनऊ यूनिवर्सिटी के  दो प्रोफेसरों की न्युक्तियां हुई रद्द

लखनऊ यूनिवर्सिटी के दो एसोसिएट प्रोफेसर की नियु्क्ति को राजभवन ने नियमों के खिलाफ बताया है। राजभवन ने पत्र के माध्यम से लखनऊ यूनिवर्सिटी को मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के दो एसोसिएट प्रोफेसर की नियुक्ति रद्द करने का निर्देश दिया है।

प्रोफेसर की नियुक्ति को राजभवन ने गलत बताया है और लखनऊ यूनिवर्सिटी को एक महीने के अन्दर हटाने का आदेश दिया है। डॉ. संगीता साहू और डॉ. हिमांशु मोहन की नियुक्ति लखनऊ यूनिवर्सिटी के मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग में गत वर्ष हुई थी।
इसी विभाग की शिक्षिका डॉ. रितु नारंग ने दोनों पदों पर नियुक्ति को गलत बताया था और इस मामले की शिकायत राजभवन में की थी। इस पद के लिए नियुक्ति के लिए शोध पर्यवेक्षक होना जरूरी है।
लखनऊ यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर एसपी सिंह ने कहा कि राज भवन ने दोनों शिक्षकों की अर्हता को गलत को बताया है। नियुक्ति के दिन दोनों शिक्षक विवि के नियमों के अनुसार अर्हता पूरी नहीं करते थे।
इसलिए राजभवन ने नियुक्तियां रद्द करने को कहा है। इस पर कार्यवाही के लिए मामला कार्य परिषद के सामने रखा जाएगा।
Next Story
Top