Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुशखबरी: एंड्रॉयड यूजर्स का डाटा नहीं होगी लीक, थर्ड पार्टी ऐप्स कॉल लॉग और एसएमएस नहीं कर पाएंगे एक्सेस

यह खबर उन एंड्रॉयड यूजर्स के लिए हैं, जो कि प्राइवेसी पसंद करते हैं। इसके साथ ही दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी Google ने अपने यूजर्स के अकाउंट को डाटा लीक और हैकिंग से बचाने के लिए कड़ा कदम उठाया हैं।

खुशखबरी: एंड्रॉयड यूजर्स का डाटा नहीं होगी लीक, थर्ड पार्टी ऐप्स कॉल लॉग और एसएमएस नहीं कर पाएंगे एक्सेस
X

यह खबर उन एंड्रॉयड यूजर्स के लिए हैं, जो कि प्राइवेसी पसंद करते हैं। इसके साथ ही दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी Google ने अपने यूजर्स के अकाउंट को डाटा लीक और हैकिंग से बचाने के लिए कड़ा कदम उठाया हैं। गूगल ने थर्ड पार्टी डेवेलपर्स के लिए एक गाइडलाइन जारी की है, जो कि गूगल प्ले स्टोर के लिए है की गई है।

यूजर्स के अकाउंट को बचाने के लिए कंपनी ने कुछ बड़े बदलाव किए हैं, जिसके तहत यूजर्स को ऐप इस्तेमाल करने पर ज्यादा कंट्रोल मिलेगा।

ये भी पढ़े: Amazon और Flipkart पर फेस्टिवल सीजन सेल शुरू, ऑनलाइन शॉपिंग करते समय गांठ बांध लें ये खास बातें

गूगल सिर्फ डिफॉल्ट ऐप्स को ही यूजर के कॉल और टेक्स्ट मैसेज भेजने की परमिशन देगी। गूगल के अनुसार कॉल लॉग और मैसेज की परमिशन सिर्फ फोन के डीफॉल्ट ऐप के पास ही रहेगी। गूगल ने इसके लिए एंड्रॉयड ऐप मेकर्स को सिर्फ 90 दिनों का समय दिया है ताकि वो ऐप्स को सही तरीके से अपडेट कर सकें।

हाल ही के दिनों में गूगल ने गूगल प्लस के 5 लाख अकाउंट के संभावित डेट लीक होने की जानकारी दी थी। डाटा लीक होने से बचाने के लिए गूगल ने यूजर्स के लिए बंद दिया था। गूगल ने कहा हैं की एसएमएस, रिट्रिवर, एपीआई, एसएमएस इंटेंट एपीआई और Share Intent API या Dial Intent API जैसी सर्विस को ही कॉल, एसएमएस और कॉल लॉग के ऐक्सेस कर पाएंगी।

गूगल का मानना है कि ऐसा करने से यूजर्स के डाटा को बचाया जा सकता हैं। ऐसे में गूगल प्ले स्टोर पर ऐसे ऐप्स की बाढ़ आ चुकी है, जो बिना कारण के ही कॉल लॉग्स, कॉल और मैसेज ऐक्सेस का परमिशन यूजर्स से बिना पूछे ही ले लेते हैं।

ये भी पढ़े: सावधान! आने वाले 48 घंटो तक इंटरनेट रहेगा बंद

बता दें कि गूगल ने इस नई पॉलिसी को प्रोजेक्ट स्ट्रॉब के तहत लॉन्च किया हैं। इसके साथ ही यह प्रोजेक्ट गूगल सिक्योर यूजर डाटा का एक अहम पार्ट है। इसके अलावा अब यह देखना होगा कि गूगल का यह प्रोजेक्ट आने वाले वक्त में एंड्रॉयड यूजर्स पर इसका क्या असर हो सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story