Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Google का बड़ा ऐलान, 2019 में यह सर्विस होगी बंद, 5 करोड़ से ज्यादा यूजर्स का डाटा हुआ प्रभावित

दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी Google ने अपने यूजर्स को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। Google जल्द ही अपना सोशल मीडिया ऐप Google Plus को अप्रैल 2019 में बंद कर देगा।

Google का बड़ा ऐलान, 2019 में यह सर्विस होगी बंद, 5 करोड़ से ज्यादा यूजर्स का डाटा हुआ प्रभावित
X

दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी Google ने अपने यूजर्स को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। Google जल्द ही अपना सोशल मीडिया ऐप Google Plus को अप्रैल 2019 में बंद कर देगा।

इस सर्विस को बंद करने की असली वजह यह है कि Google Plus के 5.2 करोड़ यूजर्स यूजर्स का डाटा एक बग की वजह से प्रभावित हो गया है। इस वजह से Google अपनी इस सर्विस को बंद करने वाली है।

WhatsApp पर मंगेतर को इडियट कहना पड़ा महंगा, कोर्ट ने सुनाई बड़ी सजा

इस बग के कारण करीब 5.2 करोड़ यूजर्स का पर्सनल डाटा प्रभावित हुआ है और Google Google Plus को बग की वजह से अप्रैल 2019 में बंद कर देगी।

अक्टूबर 2018 में Google के Google Plus के सॉफ्टवेयर में एक बग आया था, जिसकी वजह से API प्रभावित हुआ था। इस बग के कारण करीब 50 लाख यूजर्स का डाटा प्रभावित हुआ था और Google ने इस बग को देरी से सर्च किया था, जिसके कारण रेग्यूलेटरी में परेशानी बताई जा रही थी।

इस बग को सर्च करने के बाद Google ने Google Plus को बंद करने की ऐलान किया था। वहीं अपने ब्लॉग में Google ने बताया था कि कुछ यूजर्स को नवंबर में आए सॉफ्टवेयर अपडेट के कारण से Google Plus API में बग आया था।

Google ने इस बग को एक वीक के अंदर ही सही कर दिया था, लेकिन गूगल ने अब इसकी जानकारी यूजर्स को दी है। गूगल ने बताया है कि किसी भी तरह की थर्ड पार्टी का अटैक हमारे सिस्टम में नहीं हुआ है और ऐप डेवलपर्स ने 6 दिनों के लिए यूजर्स का डाटा का गलत इस्तेमाल किया है।

इस वजह से Google Plus API को इस बग की जानकारी मिली, तो अब गूगल 90 दिनों में बंद किया जाएगा। इस नए बग के कारण करीब 5.2 करोड़ यूजर्स का डाटा प्रभावित हुआ है।

OnePlus 6T McLaren Launch / 10 जीबी रैम के साथ मिलेगी न्यू फास्ट चार्जिंग टैक्नोलॉजी, जानिए कीमत

API में बग आने के कारण ऐप डेवलपर्स को यूजर्स के पूरे प्रोफाइल का एक्सेस मिल गया था, चाहे यूजर्स ने अपने प्रोफाइल को प्राइवेट ही क्यो ना कर ले।

बता दें कि API में बग के कारण डेवलपर्स यूजर्स के नाम, ई-मेल, व्यावसाय, उम्र के साथ एड्रैस का आसानी से पता लगा सकते थे। Google के ब्लॉग के अनुसार, इस बग के कारण यूजर्स की फाइनेंशियस जानकारी, नेशनल आईडी नंबर अन्य जानकारी डेवलपर्स को नहीं मिली है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story