Logo
Baba Tarsem Singh Shot Dead: घटना की जांच के लिए पुलिस मुख्यालय ने एक एसआईटी का गठन किया है। इसमें एसटीएफ और स्थानीय पुलिस के अधिकारी शामिल होंगे। एसटीएफ को इसे अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता में रखने को कहा गया है।

Baba Tarsem Singh Shot Dead: उत्तराखंड से सनसनीखेज खबर सामने आई है। यहां उधम सिंह नगर जिले के  नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारे में कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात सुबह साढ़े 6 बजे की है। दो बाइक पर सवार हमलावरों ने डेरे के अंदर बाबा तरसेम सिंह पर अंधाधुंध फायरिंग की। सिंह को खटीमा के एक अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इस घटना के बाद से इलाके में तनाव है।

उधम सिंह नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) मंजूनाथ टीसी घटनास्थल पर स्थिति का जायजा लेने के लिए पहुंचे हैं। अस्पताल और नानकमत्ता में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। फरार हमलावरों की तलाश तेज कर दी गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

Baba Tarsem Singh
Baba Tarsem Singh

बाबा तरसेम को लगी तीन गोली, हमलावर सीसीटीवी में दिखे
आशंका है कि बाबा तरसेम सिंह की हत्या करने के लिए हमलावरों ने फुल प्रूफ इंतजाम किया था। प्लानिंग के तहत वे सुबह डेरा पहुंचे और गोली मारकर फरार हो गए। बाबा तरसेम सिंह को तीन गोली लगी है। एक गोली पेट के आरपार हो गई है।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाला है। हत्यारे पगड़ी पहने हुए हैं। एक शख्स की पगड़ी सफेद तो दूसरे हमलावर की पगड़ी काले रंग की है। एक ने जींस पहना है तो दूसरे ने लोअर पहन रखा है। बाइक के पीछे नीले रंग का बैग भी बंधा है।

घटना की जांच के लिए बनी एसआईटी
उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार ने कहा कि हमें सुबह 7 बजे के आसपास बाबा तरसेम सिंह की हत्या की सूचना मिली। बताया गया कि सुबह 6:15-6:30 के बीच दो नकाबपोश हमलावर नानकमत्ता गुरुद्वारे में घुस गए और कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह को गोली मार दी। उन्हें खटीमा अस्पताल ले जाया गया। लेकिन उन्होंने दम तोड़ दिया। यह बहुत गंभीर मामला है। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। एसएसपी पहले से ही वहां मौजूद हैं। डीआइजी कुमाऊं भी वहां पहुंच रहे हैं। वह घटनास्थल का निरीक्षण करेंगे और स्थानीय लोगों से बात करेंगे। वह वहां की स्थिति का आकलन करने की कोशिश करेंगे। 

घटना की जांच के लिए पुलिस मुख्यालय ने एक एसआईटी का गठन किया है। इसमें एसटीएफ और स्थानीय पुलिस के अधिकारी शामिल होंगे। एसटीएफ को इसे अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता में रखने को कहा गया है। और सभी एंगल की सूक्ष्मता से जांच करने का आदेश दिया गया है। हमें न केवल हमलावरों की पहचान करनी है, बल्कि इस हत्या के पीछे की बड़ी साजिश, यदि कोई हो तो उसे भी उजागर करना है। हमने इस मामले से संबंधित उपयोगी जानकारी हमारे साथ साझा करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों से भी संपर्क किया है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हम करेंगे इस मामले को जल्द सुलझाएं और सख्त कार्रवाई करें।

उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) एपी अंशुमन ने कहा कि इलाके में कानून-व्यवस्था की स्थिति सामान्य है।

Watch CCTV...

सत्ता और विपक्ष में थी गहरी पैठ
नानकमत्ता गुरुद्वारा को नानकमत्ता साहिब के नाम से भी जाना जाता है। यह एक सिख तीर्थ स्थल है और सिखों के लिए महत्वपूर्ण ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व रखता है। बाबा तरसेम सिंह सत्ता और विपक्ष दोनों में गहरी पैठ रखते थे। 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487