Logo
हरियाणा के गुरुग्राम में नौकरी के नाम पर युवकों को विदेश भेजकर बंधक बनाने व साइबर ठगी कराने के मामले में पुलिस ने यूट्यूबर बॉबी कटारिया को गिरफ्तार किया। पुलिस मामले में बॉबी कटारिया से पूछताछ कर रही है।

Gurugram: नौकरी के नाम पर विदेश भेजकर बंधक बनाने व साइबर ठगी कराने के मामले में पुलिस ने यूट्यूबर बॉबी कटारिया को गिरफ्तार कर लिया। बॉबी कटारिया पर यूपी मूल के दो युवकों से लाखों रुपए लेकर उन्हें वैन्टाईन भेजकर बंधक बनाने व चाईनीज कम्पनी में ले जाने का आरोप है। वहां उनके साथ मारपीट करके पासपोर्ट छीन लिए और उन्हें अमेरिकन लोगों के साथ साईबर फ्रॉड करने को मजबूर किया। जैसे-तैसे युवक मौका पाकर वहां से भाग निकले और इंडियन एंबेसी पहुंच वापिस इंडिया आए। पीड़ित युवकों का आरोप है कि जिस कम्पनी में उन्हें बंधक बनाया, वहां करीब 150 भारतीय इसी प्रकार मानव तस्करी करके लाए गए थे, जिनमें महिलाए भी शामिल हैं। पुलिस मामले में छानबीन कर रही है।

इंस्टाग्राम पर बॉबी कटारिया के साथ टच में आए

बजघेड़ा थाना पुलिस को दी शिकायत में यूपी के फतेहपुर निवासी अरुण कुमार व हापुड़ निवासी मनीष तोमर ने कहा कि वे बेरोजगार थे। वे इंस्टाग्राम पर अपने-अपने स्तर पर यूट्यूबर बॉबी कटारिया के टच में थे। बॉबी के यूट्यूब चैनल एमबीके के साथ उन्होंने विदेश में नौकरी दिलाने का विज्ञापन देखा। जिसके बाद उन्होंने बॉबी कटारिया से उसके मोबाइल पर कॉल किया और व्हाट्सएप्प पर सम्पर्क किया। बॉबी ने उन्हें विदेश में नौकरी दिलवाने का झांसा देकर अपने सेक्टर-109 स्थित ऑफिस बुलाया। अरुण कुमार 1 फरवरी 2024 को बॉबी कटारिया से उसके आफिस में मिला और उसने दो हजार रुपए में अपना रजिस्ट्रेशन कराया। इसके बाद बॉबी कटारिया के कहने पर 13 फरवरी को उसके आफिस के खाता एमबीके ग्लोबल वीजा प्राईवेट लिमिटेड में 50 हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए।

पैस ट्रांसफर करने पर वैंटाइन की फ्लाइट में बैठाया

अरुण ने बताया कि बॉबी कटारिया के कहने पर 14 मार्च को अंकित शौकीन नामक व्यक्ति के खाता में एक लाख और ट्रांसफर किए। बॉबी कटारिया ने शौकीन के व्हाटसएप्प से वैन्टाईन (एलएओएस) की टिकट भिजवायी। जिसके बाद वह 28 मार्च को बॉबी कटारिया के कहने के मुताबिक एयरपोर्ट पर 50 हजार रुपए यूएसडी में बदलवाकर वैन्टाईन की फ्लाईट में बैठ गया। इसी प्रकार उसके दोस्त मनीष तोमर से भी लाखों रुपए सिंगापुर भेजने के नाम पर लिए, लेकिन उसे भी वैन्टाईन की फ्लाईट में बैठा दिया। जब दोनों वैन्टाईन के एयरपोर्ट पर उतरे तो वहां उन्हें अभी नामक युवक मिला। जिसने खुद को बॉबी कटारिया का दोस्त व पाकिस्तानी एजेंट बताया। उसने उन्हें वैन्टाइन के होटल माइकन सन में छोड़ दिया।

नावतुई ट्रेन की टिकट करवाकर ट्रेन में बैठाया

पीड़ितों ने बताया कि उन्हें नावतुई ट्रेन की टिकट कराकर ट्रेन में बैठा दिया। नावतुई स्टेशन से अभी ने टैक्सी द्वारा उन्हें गोल्डन ट्रैंगल छुड़वा दिया। जहां पर उन्हें अंकित शौकीन व नितीश शर्मा उर्फ रॉकी नामक युवक मिले। जो उन्हें बेनामी चाईनीज कम्पनी में ले गए। वहां पर दोनों दोस्तों के साथ जमकर मारपीट की और उनके पासपोर्ट छीन लिए गए। वहीं उन्हें अमेरिकन लोगों के साथ साईबर फ्रॉड करने को मजबूर किया। दोनों को धमकी दी कि यदि उनके अनुसार काम नहीं किया तो इंडिया नहीं पहुंच सकेंगे, उन्हें यहीं मार दिया जाएगा। उस कंपनी में करीब 150 भारतीय इसी प्रकार मानव तस्करी करके लाए गए थे, जिनमें महिलाए भी शामिल हैं। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

विवादों में रहे हैं बॉबी कटारिया

टिकटॉक से फेसम हुए यूट्यूबर बॉबी कटारिया गुरुग्राम के बसई गांव के रहने वाले हैं। उनकी अपनी शुरुआती पढ़ाई दिल्ली के एमबीडीएवी स्कूल से हुई है। उन्होंने वकालत की हुई है। उनकी काफी फैन फोलोइंग है। वे अपनी वीडियो या रिल्स को लेकर काफी विवादों में रहा है। विवाद भी इतने संगीन की, उसे पुलिस तलाश कर रही है। बॉबी कटारिया सोशल मीडिया में खासा एक्टिव रहते हैं। अक्सर शराब और सिगरेट के साथ उनके वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होते हैं। इंस्टाग्राम पर उसके लाखों फालोअर्स भी हैं। गत वर्ष देहरादून के कैंट कोतवाली क्षेत्र में बीच सड़क पर कुर्सी टेबल लगाकर शराब पीते हुए यूट्यूबर बॉबी कटारिया की वीडियो वायरल हुई थी। एक वीडियो में कटारिया विमान के अंदर सिगरेट पीते हुए दिख रहा था। जिसका संज्ञान लेते हुए तत्कालीन केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जांच के आदेश दिए थे।

jindal steel hbm ad
5379487