Logo
election banner
हरियाणा में सीएम नायब सैनी के नेतृत्व वाली सरकार के मंत्रिमंडल का आज विस्तार होना है। यह कार्यक्रम सुबह 11 बजे का रखा था, लेकिन इसमें देरी हो रही है। इसके कारण राजनीतिक खींचतान बताई जा रही है। पढ़िये यह रिपोर्ट...

हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सैनी के नेतृत्व वाली सरकार के कैबिनेट विस्तार को लेकर सियासत तेज हो गई है। एक तरफ जहां पूर्व गृह मंत्री अनिल विज अभी तक नाराज चल रहे हैं, वहीं अहीरवाल क्षेत्र के एक बड़े नेता ने दो विधायकों को कैबिनेट में शामिल करने की मांग उठा दी है। बताया जा रहा है कि इस खींचतान के चलते सुबह 11 बजे होने वाले कैबिनेट विस्तार को दोपहर तक के लिए टाल दिया गया है। अगर इन दोनों स्थितियों पर काबू नहीं पाया जा सकता है, तो कैबिनेट विस्तार का निर्णय टाला जा सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीएम नायब सैनी ने भाजपा हाईकमान को इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी है। ऐसे में निर्णय लिया गया है कि अगर मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर विवाद होता है, तो इस टाल दिया जाए। सीएम नायब सैनी के मंत्रिमंडल में पांच मंत्री पहले शपथ ले चुके हैं। ऐसे में कहा गया है कि अगर विवाद हो तो इन पांचों मंत्रियों में विभागों का बंटवारा कर दें और किसी को भी मंत्रिमंडल में शामिल न करें। इसके पीछे की वजह लोकसभा चुनाव को बताया जा रहा है ताकि किसी भी विवाद की स्थिति का असर इन चुनावों पर न पड़े।

सुबह लौटा दी गई मंत्रियों की गाड़ियां

राजभवन में आज सुबह पांच मंत्रियों के लिए नई गाड़ियां आई थीं, लेकिन कुछ समय बाद ही इन गाड़ियों को लौटा दिया गया। गुरुग्राम से विधायक सुधीर सिंगला ने यहां मीडिया से बातचीत में बताया कि कैबिनेट विस्तार का कार्यक्रम 11 बजे था, लेकिन अब शायद दोपहर तक के लिए टाल दिया गया है। उन्होंने नाम लिए बिना संकेत दिया कि हर छोटे से छोटे फैसले के लिए सहमति बनाई जाती है। जो कुछ भी अड़चन आई होगी, उसका जल्द समाधान हो जाएगा।

मंत्रिमंडल में इन विधायकों के नामों की चर्चा

राजनीतिक सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि जींद से विधायक कृष्ण लाल मिड्‌ढा, सोहना से विधायक संजय सिंह, निर्मल रानी, सीमा त्रिखा, सुभाष सुधा, ओपी यादव, अभय यादव का नाम चर्चा में चल रहा है। हालांकि सूत्रों के हवाले से यह भी बताया जा रहा है कि अनिल विज को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिल पाई, जिसके चलते उनकी नाराजगी बनी है। बहरहाल, इस घटनाक्रम पर स्पष्ट तस्वीर के लिए कुछ देर का इंतजार करना होगा।

अनिल विज की प्रतिक्रिया आई सामने, बोले- मैं नाराज नहीं 

सुबह से खबरें चल रही थी कि अनिल विज खासे नाराज हैं, लेकिन दोपहर बाद उन्होंने इस पर स्पष्ट प्रतिक्रिया दी। अंबाला में मीडिया से बातचीत के दौरान अनिल विज ने कहा कि मैं किसी से भी नाराज नहीं हूं, सभी से मिल रहा हूं। विधानसभा सत्र भी अटैंड किया था। उन्होंने कहा कि सत्र के दौरान मुझसे किसी ने बात नहीं की। उन्होंने उम्मीद जताई कि वे अच्छी सरकार चलाएंगे। नए सीएम नायब सैनी को अपना छोटा भाई बताते हुए अनिल विज ने कहा कि हमें पूरा भरोसा है कि वो प्रदेश के लिए बेहतर कार्य करेंगे। 

5379487