Logo
election banner
INLD Chief Nafe Singh Rathee Murder Case: राठी विवादों में रहे हैं। जनवरी 2023 में भाजपा नेता जगदीश नंबरदार की कथित आत्महत्या के मामले में हरियाणा पुलिस ने राठी और पांच अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया था। 

INLD Chief Nafe Singh Rathee Murder Case: इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के हरियाणा प्रमुख नफे सिंह राठी की रविवार को झज्जर जिले के बहादुरगढ़ में गोली मारकर हत्या कर दी गई। इन सनसनीखेज वारदात का सीसीटीवी सामने आया है। इसमें हमलावर दिखाई दिए हैं। उन्होंने वारदात को अंजाम देने से पहले काफी देर तक नफे सिंह के आने का इंतजार किया। फुटेज घटनास्थल से कुछ दूरी पर का है। चारों शूटर्स कार के जरिए आए थे। पुलिस गाड़ी के नंबर को ट्रेस करने की कोशिश कर रही है। 
 
हरियाणा पुलिस ने चारों आरोपियों की पहचान कर ली है। एफआईआर के अनुसार, आरोपियों के नाम नरेश कौशिक, रमेश राठी, सतीश राठी और राहुल हैं। नरेश कौशिक पूर्व विधायक है। जबकि रमेश राठी मौजूदा चेयरपर्सन सरोज राठी के पति हैं। उनके चाचा ससुर कर्मवीर राठी, देवर कमल राठी पर भी केस हुआ है। इसके अलावा सतीश राठी पूर्व मंत्री मांगेराम राठी का बेटा है। उनके पोते गौरव और राहुल को भी पुलिस ने आरोपी बनाया है। कुल 7 लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। यह केस नफे सिंह के भांजे राकेश उर्फ संजय की शिकायत पर दर्ज किया गया है। राकेश ड्राइवर था। 

अंतिम संस्कार करने से किया इंकार
इस बीच इनेलो प्रमुख नफे सिंह राठी के बेटे जितेंद्र राठी ने कहा कि मेरे पिता की मृत्यु के बाद उनकी बॉडी को लगभग 3-3:30 बजे मोर्चुरी में ले जाया गया। लगभग 4 बजे प्राथमिकी दर्ज की गई। जब तक एफआईआर में आरोपित नामजद लोगों को गिरफ्तार नहीं किया जाता और हमें सुरक्षा प्रदान नहीं की जाती। हम अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। मुझे लगता है कि पिता की हत्या में स्थानीय राजनेता इसमें शामिल हैं। 

आई10 कार से आए थे शूटर्स
आई 10 कार से शूटर्स आए थे। उन्होंने रविवार को उस वक्त हमला किया, जब नफे सिंह राठी एक एसयूवी में बैठे थे। वे किसी व्यक्ति की मौत पर शोक प्रकट कर वापस आ रहे थे। तभी झज्जर के बहादुरगढ़ शहर में हमलावरों ने उन पर हमला कर दिया। शूटर्स ने राठी की गाड़ी पर 40 से 50 राउंड फायरिंग की। हमले में नफे सिंह राठी और उनके सुरक्षाकर्मी की भी मौत हो गई। उनकी कार पर गोलियों के निशान मिले हैं। 

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा ने हमले की निंदा की और इसके लिए हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में इनेलो प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की गोली मारकर हत्या की खबर बेहद दुखद है। यह प्रदेश की कानून व्यवस्था की बदहाली है। इस घटना से साफ हो गया है कि कानून व्यवस्था का दिवाला निकल चुका है। आज कोई भी प्रदेश में खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है।

नफे सिंह राठी कौन थे?
नफे सिंह राठी बहादुरगढ़ से पूर्व विधायक थे और दो बार इनेलो प्रमुख रहे। वह हरियाणा के पूर्व विधायक एसोसिएशन के अध्यक्ष भी थे।
70 वर्षीय नफे सिंह राठी को पिछले कुछ दिनों से जान से मारने की धमकियां मिल रही थीं। हरियाणा के झज्जर जिले के जटवाड़ा बहादुरगढ़ के रहने वाले नफे सिंह राठी एक प्रमुख जाट नेता थे। 

राठी ने बहादुरगढ़ विधानसभा का दो बार नेतृत्व किया। उन्होंने 1996 में राजनीति में कदम रखा था। समता पार्टी के टिकट पर विधायक चुने गये। इसके बाद 2000 में राठी ने एक बार फिर जीत हासिल की। इस बार वे इनेलो के टिकट पर मैदान में थे। राठी दो बार बहादुरगढ़ नगर परिषद के चेयरमैन भी रहे।

राठी विवादों में रहे हैं। जनवरी 2023 में भाजपा नेता जगदीश नंबरदार की कथित आत्महत्या के मामले में हरियाणा पुलिस ने राठी और पांच अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया था। 

jindal steel Ad
5379487