Logo
election banner
आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह आज शाम तक तिहाड़ जेल से रिहा हो जाएंगे। उन्हें जमानत अवधि के दौरान कई शर्तों का पालन करना होगा। बावजूद इसके आम आदमी पार्टी साबित कर रही है कि संजय सिंह को क्लीन चिट मिल चुकी है। पढ़िये इसके पीछे की वजह...

दिल्ली शराब घोटाला मामले की जांच तेजी से आगे बढ़ रही है, लेकिन यह मामला सत्य और असत्य के बीच अभी तक लटक रहा है। आम आदमी पार्टी शुरू से इसे फर्जी मामला बता रही है। विशेषकर संजय सिंह के तिहाड़ जेल से जमानत पर रिहा करने का आदेश सामने आते ही आप ने बीजेपी के साथ ईडी पर भी तीखे हमले करने शुरू कर दिए हैं। आप का आरोप है कि अगर केस में जान होती तो ईडी संजय सिंह की जमानत का विरोध करती, लेकिन ऐसा नहीं किया क्योंकि उन्हें पता था कि इससे यह पूरा केस ही खत्म हो जाएगा। आप के इन आरोपों पर बीजेपी ने भी पलटवार किया है। कहा है कि धीरे ही सही, लेकिन शराब घोटाला करने वाले आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच रहे हैं। तो चलिये बताते हैं दिल्ली शराब मामले से जुड़ी आज की तमाम अपडेट्स...

'संजय सिंह की रिहाई को लेकर ईडी ने कर दिया सरेंडर'

आप के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने संजय सिंह की जमानत पर कहा कि सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच ने ईडी को चेतावनी दी थी कि अगर जमानत का विरोध करेंगे तो हम इसमें फैसला लिखेंगे। ईडी ने संजय सिंह के खिलाफ कोई सबूत नहीं दिया। उन्होंने कहा कि ईडी अगर जमानत का विरोध करती और कोर्ट संजय सिंह को जमानत दे देती तो यह पूरा केस हवा में उड़ जाता। उन्होंने कहा कि अपनी इज्जत को बचाने के लिए और केस को चलाए रखने के लिए ईडी ने सरेंडर कर दिया है। नीचे देखिये सौरभ भारद्वाज का पूरा बयान...

'आप के सभी नेता झूठ बोलने में माहिर'

बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने संजय सिंह को शर्तों पर जमानत दी है। कोर्ट ने यह भी स्पष्ट किया है कि इस जमानत का हवाला देकर किसी अन्य नेता के लिए जमानत नहीं मांगी जा सकती है। उन्होंने हैरानी जताई कि आम आदमी पार्टी कोर्ट के फैसले को भी मनमाने ढंग से व्याख्या कर रहे हैं।

वहीं, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा का कहना है कि आतिशी ने भी हमेशा झूठ बोला है। उन्होंने कल ऐसा बयान दिया था, जिसमें बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए थे। हमने उनसे माफी मांगने के लिए एक दिन का समय दिया था, लेकिन उन्होंने माफी नहीं मांगी। ऐसे में उन्हें मानहानि का नोटिस भेजा गया है। अगर 15 दिन के भीतर अपने बयानों के लिए माफी नहीं मांगती है, तो उनके खिलाफ आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

संजय सिंह की जमानत से इंडिया गठबंधन भी खुश 

संजय सिंह की जमानत को लेकर इंडिया गठबंधन के साथी भी खासे खुश हैं। नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट ने भी पहले ईडी के केस पर सवाल उठाए थे। आम आदमी पार्टी भी कहती है कि इस मामले में कुछ भी दम नहीं है। सुप्रीम कोर्ट से उम्मीद है कि राजनीतिक लाभ के लिए जांच एजेंसियों का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए। जहां धांधली हुई है, वहां सजा मिलनी चाहिए। अगर राजनीतिक लाभ के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल होता है तो अदालत से ही इंसाफ की उम्मीद है।

उमर अब्दुल्ला के अलावा कांग्रेस, शिवसेना उद्धव गुट, समाजवादी पार्टी समेत इंडी गठबंधन के सभी सहयोगी दलों ने संजय सिंह की जमानत पर खुशी जताई है। 

ईडी के शिकंजे से छूटना आसान नहीं 

संजय सिंह को भले ही जमानत मिल चुकी है, लेकिन दिल्ली शराब मामले के आरोपियों का ईडी से बचना आसान नहीं है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ईडी जल्द ही आम आदमी पार्टी की संपत्तियों को कुर्क करने वाली है। यह जानकारी ईडी के वकील एएसजी एसवी राजू ने दिल्ली हाई कोर्ट से साझा की है।

अरविंद केजरीवाल की याचिका पर सुनवाई के दौरान एसवी राजू ने कहा कि अगर यह कार्रवाई होती है तो वे कहेंगे कि चुनाव के समय में किया गया है। अगर कार्रवाई नहीं करते तो कहेंगे सबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी मामले की जांच चल रही है, आगे समय समय पर कार्रवाई चलती रहेगी। ईडी का पक्ष जानकर आप समझ गए होंगे कि भले ही संजय सिंह को जमानत मिल गई है, लेकिन दिल्ली शराब घोटाला मामले में फंसे अन्य नेताओं का ईडी से बचना आसान नहीं होगा। 

 

jindal steel Ad
5379487