Logo
election banner
Delhi Dwarka Firing: दिल्ली के द्वारका में दो अज्ञात लोगों ने एक प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय के बाहर गोलीबारी की। पुलिस इन आरोपियों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है।

Delhi Dwarka Firing:राजधानी दिल्ली के द्वारका जिले के खैरा एक्सटेंशन इलाके में रविवार को दो अज्ञात लोगों ने एक प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय के बाहर गोलीबारी की। आरोपी घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश एक लेटर मौके पर फेंक कर फरार हो गया। इसके बाद इलाके में हड़कंप मच गया। जानकारी के मुताबिक, फायरिंग करने के दोनों आरोपी का संबंध लॉरेंस बिश्नोई गैंग से है। 

आरोपियों की पड़ताल के लिए CCTV फुटेज खंगाल रही पुलिस 

दिल्ली पुलिस अधिकारी का कहना है कि हमें जानकारी मिली है कि दो लोगों ने एक प्रॉपटी डीलर के कार्यालय के बाहर गोलियां चलाई। सूचना मिलते ही तुरंत एक टीम को मौके पर भेजा गया। पुलिस टीम ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए एक टीम भी गठित की गई हैं। पुलिस की टीम आरोपियों को पहचान करने और गोली चलाने के पीछे के मकसद का पता लगाने के लिए सीसीटीवी फुटेज की जांच में जुटी है। 

दोनों आरोपी लॉरेंस गैंग के करीबी 

जानकारी के मुताबिक, द्वारका फायरिंग की घटना को लॉरेंस बिश्नोई गैंग के करीबी शूटर्स ने अंजाम दिया है। फायरिंग के बाद शूटर्स एक लेटर फेंक कर मौके से फरार हो गए थे। शूटर्स ने प्रॉपर्टी डीलर से एक करोड़ रुपये की रिश्वत मांगी है। इस मामले में पुलिस को शूटर जेलदार पर शक है। जेलदार पर रंगदारी, चोरी और अवैध वसूली के पहले से कई मामले दर्ज है। शुरुआती जांच में पता चला है कि फायरिंग की घटना में अजय जेलदार के साथ नरेश सेठी भी शामिल हैं। इन दोनों को लॉरेंस बिश्नोई गैंग का करीबी माना जाता है। 

मतलब है कि इससे पहले बीते साल 13 दिसंबर 2023 को द्वारका के बिंदापुर और 9 जनवरी को ओल्ड पालम रोड स्थित प्रॉपर्टी डीलर के दफ्तर पर इसी प्रकार गोलियां चलाई थी। इन सभी मामलों की जांच भी द्वारका पुलिस कर रही है।

5379487