Logo
बलौदाबाजार आगजनी के मामले में 39 और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले 82 लोगों की गिरफ्तारी की गई थी। जो की अब बढ़कर 121 हो गई है। 

देवेश साहू-बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार में बीते दिन हुई आगजनी की घटना के बाद पुलिस एक्शन मोड में है। गुरुवार को आगजनी के मामले में 39 और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले 82 लोगों की गिरफ्तारी की गई थी। जो की अब बढ़कर121 हो गई है। 

इस मामले में विभिन्न धाराओं के तहत कुल अलग अलग 8 एफआईआर दर्ज है। पुलिस उपद्रवियों के छिपने के ठिकानों में लगातार दबिश दे रही है। वहीं धरना प्रदर्शन का आयोजन करने वाले आरोपियों के विरुद्ध थाना सिटी कोतवाली में धारा 147,148,149,186,353, 332,307,435,120B,427,435 भादवि, सार्वजनिक संपत्ति निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3, 4 के तहत मामला दर्ज किया गया है। 
 
यह है पूरा मामला 

बलौदाबाजार जिले में सतनामी समाज के लोग अपनी मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदेश भर से हजारों की संख्या में सतनाम समाज के लोग पहुंचे थे। दशहरा मैदान में उग्र प्रदर्शन करने के बाद प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की सुरक्षा को भेदकर कलेक्टर कार्यालय पहुंच गए। कलेक्टर कार्यालय परिसर में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। उधर बलौदाबाजार पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार ने कहा है कि, उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि, सीसीटीवी फुटेज और वीडियोग्राफी की मदद से उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। वहीं प्रदर्शनकारियों ने 13 पुलिसकर्मियों को भी घायल कर दिया है, इनमें से दो जवानों की हालत गम्भीर बताई जा रही है।

3–4 हजार की संख्या में पहुंची भीड़ 

उल्लेखनीय है कि, प्रदर्शनकारियों को रोकने में पुलिस के पसीने छूट गए। 3–4 हजार की संख्या में प्रदर्शनकारी कलेक्टर परिसर पहुंच कर उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं। घंटों तक बवाल काटने के बाद प्रदर्शनकारी वहां से चले गए हैं। रायपुर रेंज के आईजी अमरेश मिश्र अब मौके पर पहुंच गए हैं। वहीं सीएम विष्णुदेव साय ने घटना की जानकारी ली है। फोन के जरिए कलेक्टर और एसपी से उन्होंने बात की है। श्री साय ने स्थिति नियंत्रित करने के निर्देश दिए हैं। इस घटना पर लगातार वे नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। 


 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487