Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मंत्रिमंडल विस्तार : जातीय और क्षेत्रीय समीकरण को बखूबी साध गई योगी सरकार, 2022 पर निगाहें

साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद योगी सरकार के मंत्रिमंडल में हर वर्ग के लोगों को तो जगह मिल गई थी पर क्षेत्र के आधार पर बराबर हिस्सेदारी नहीं मिल सकी थी। इसबार इसे संतुलित बनाने की पूरी कोशिश की गई है। आगरा, बुंदेलखंड, बस्ती, बनारस समेत कई जिलों में पार्टी को बम्पर जीत मिली थी पर सरकार में प्रतिनिधित्व कम ही मिला था।

मंत्रिमंडल विस्तार : जातीय और क्षेत्रीय समीकरण को बखूबी साध गई योगी सरकार, 2022 पर निगाहें

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने बुधवार को मंत्रीमंडल का विस्तार कर दिया। इस विस्तार में पार्टी ने हर पहलुओं को बड़ी ही बारीकी से ध्यान दिया। 18 नए चेहरों को शामिल किया गया है जबकि 5 पुराने मंत्रियों को बेहतर काम करने का इनाम प्रमोशन स्वरूप मिला है। मंत्रिमंडल के इस विस्तार में जातिगत समीकरणों और क्षेत्रीय गणित को बखूबी खयाल रखा गया है।

साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के बाद योगी सरकार के मंत्रिमंडल में हर वर्ग के लोगों को तो जगह मिल गई थी पर क्षेत्र के आधार पर बराबर हिस्सेदारी नहीं मिल सकी थी। इसबार इसे संतुलित बनाने की पूरी कोशिश की गई है। आगरा, बुंदेलखंड, बस्ती, बनारस समेत कई जिलों में पार्टी को बम्पर जीत मिली थी पर सरकार में प्रतिनिधित्व कम ही मिला था।

प्रदेश के हर हिस्से को शामिल करने की कोशिश

इसबार उनके साथ न्याय हुआ और उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। पश्चिमी यूपी के मुजफ्फरनगर से कपिलदेव अग्रवाल और चरथावल से विधायक विजय कश्यप को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। बुदेंलखंड से स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) के इस्तीफे के बाद वहां से चित्रकूट के विधायक चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। कानपुर मंडल से कमल रानी वरुण और नीलिमा कटियार को मौका दिया गया।


बुलंदशहर से अनिल शर्मा, आगरा कैंट से जीएस धर्मेश, बस्ती मंडल से सतीश द्विवेदी और वाराणसी मंडल से रवींद्र जायसवाल को मंत्रिमंडल में जगह मिली है। मुलायम सिंह के गढ़ मैनपुरी से रामनरेश अग्निहोत्री और फतेहपुर से विधायक उदयभान सिंह को भी योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रीमंडल में शामिल किया है। सरकार की पूरी कोशिश रही कि प्रदेश के हर हिस्से को कवर किया जाए।

जातीय गणित का रखा गया पूरा खयाल

उत्तर प्रदेश की सियासत में जाति फैक्टर अक्सर महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है इसलिए योगी सरकार ने मंत्रिमंडल विस्तार में इस बात को भी विशेष ध्यान रखा। 23 नए मंत्रियों में 6 ब्राह्मण, 4 वैश्य, 4 ठाकुर, एक जाट, एक गुजर, एक लोधी व एक मंत्री कश्यप बिरादरी से है। पहली बार मंत्री बनी कमल रानी वरुण एससी कोटे से आती हैं। सरकार के इस मंत्रिमंडल विस्तार को 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारी की तरह भी देखा जा रहा है।

Next Story
Share it
Top