Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राम मंदिर के शिलान्यास के लिए बद्रीनाथ से मिट्टी और अलकनंदा नदी से जल अयोध्या भेजा गया

विश्व हिंदू परिषद के एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को मिट्टी और जल के साथ अयोध्या के लिए रवाना हो गया है। राम मंदिर के लिए अयोध्या इन भूमिपूजन समारोह पांच अगस्त को आयोजित होगा।

राम मंदिर के शिलान्यास के लिए बद्रीनाथ से मिट्टी और अलकनंदा नदी से जल अयोध्या भेजा गया
X

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास के लिए चंद दिन ही बचे हैं। ऐसे में उत्तराखंड के बद्रीनाथ से मिट्टी और अलकनंदा नदी से जल राम मंदिर के शिलान्यास समारोह के लिए अयोध्या भेजा जा रहा है। विश्व हिंदू परिषद के एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को मिट्टी और जल के साथ अयोध्या के लिए रवाना हो गया है। राम मंदिर के लिए अयोध्या इन भूमिपूजन समारोह पांच अगस्त को आयोजित होगा।

बता दें पीएम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। शिलान्यास समारोह के लिए अयोध्या में तैयारियां जोरों पर हैं। इस अवसर पर होने वाले कार्यक्रम की सरकारी चैनल दूरदर्शन पर लाइव स्ट्रीम भी की जाएगी।

मिली जानकारी के मुताबिक, 5 अगस्त 2020 को राम मंदिर के 'भूमि पूजन' समारोह के लिए जिन लोगों को आमंत्रित किया जा रहा हैं उनमें भाजपा के सीनियर नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और आरएसएस चीफ मोहन भागवत का नाम शामिल है। बीते रविवार को इस बात की जानकारी मंदिर के ट्रस्टी ने दी। बताया जा रहा है कि कुल मिलकर इस कार्यक्रम में 150 लोग शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजा गया लीगल नोटिस

बता दें कि राम जन्म भूमि पूजन को लेकर तैयारियां जारी है। इसी बीच राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को लेकर निर्वाणी छावनी के महंत धर्मदास ने प्रधानमंत्री कार्यालय को एक लीगल नोटिस भेजा है। जिसमें वह इस ट्रस्ट में शामिल ना किए जाने से नाराज हैं। उन्होंने कहा है कि उन्हें राम मंदिर में पुजारी की भूमिका में जोड़ा जाए। ट्रस्ट में निर्वाणी अखाड़े को जगह देने की मांग की है।

Next Story