Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इमरान खान के शपथग्रहण में शामिल होने को लेकर हरियाणा सरकार के मंत्री ने सिद्धू पर साधा निशाना

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने पाकिस्तान में इमरान खान के शपथग्रहण में शामिल होने को लेकर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर आज निशाना साधा। इमरान खान ने शनिवार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। खान 1992 में विश्व कप में पाक क्रिकेट टीम के कप्तान थे जब पाकिस्तान ने विश्व कप जीता था।

इमरान खान के शपथग्रहण में शामिल होने को लेकर हरियाणा सरकार के मंत्री ने सिद्धू पर साधा निशाना

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने पाकिस्तान में इमरान खान के शपथग्रहण में शामिल होने को लेकर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर आज निशाना साधा। इमरान खान ने शनिवार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। खान 1992 में विश्व कप में पाक क्रिकेट टीम के कप्तान थे जब पाकिस्तान ने विश्व कप जीता था।

खान ने अपनी टीम के कुछ पूर्व सहयोगियों और मित्रों को अपने शपथग्रहण में आमंत्रित किया था। गहरे नीले रंग का सूट और एक गुलाबी पगड़ी पहने सिद्धू खान के शपथ ग्रहण समारोह में अन्य विशिष्ट अतिथियों के साथ मौजूद थे। खान ने आज इस्लामाबाद स्थित ऐवान-ए-सद्र (पाकिस्तान के राष्ट्रपति भवन) में पद और गोपनीयता की शपथ ली।
विज ने कार्यक्रम में सिद्धू के शामिल होने को भारत के प्रति ‘‘अनिष्ठा का कृत्य' बताया जिसका देश के ‘‘देशभक्त नागरिक समर्थन नहीं करेंगे।'
उन्होंने मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए सिद्धू पर इसको लेकर निशाना साधा कि उन्होंने ‘‘अपने देश के भावुक और दुख की घड़ी को नजरंदाज' किया जहां पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद शोक मनाया जा रहा है।
विज ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के निधन के बाद सात दिन के शोक की घोषणा की है लेकिन सिद्धू ने पाकिस्तान में खान के शपथग्रहण में हिस्सा लेने का चयन किया और अपने देश में भावुक और दुख के समय को नजरंदाज किया।'
उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं कि सिद्धू की खान के साथ मित्रता है लेकिन ‘‘मित्रता देश से बड़ी नहीं है।' विज ने कहा कि ऐसे समय जब सत्ताधारी और विपक्ष के तमाम नेता वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए दिल्ली में थे, सिद्धू इस्लामाबाद में खान के जश्न में शामिल हो रहे थे।
उन्होंने मांग की कि पंजाब के मुख्यमंत्री इस मामले को गंभीरता से लें और सिद्धू के खिलाफ उनके कथित ‘‘राष्ट्र विरोधी' कृत्य के लिए ‘‘कड़ी कार्रवाई' करें।
Share it
Top