Logo
election banner
Acharya Satyendra Das Ji Maharaj on JDU MP Kaushalendra Kumar: अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्घाटन होगा। इसके साथ ही रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा होगी। पीएम मोदी रामलला की प्रतिमा को गर्भगृह में स्थापित करेंगे।

Acharya Satyendra Das Ji Maharaj on JDU MP Kaushalendra Kumar: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी के सांसद कौशलेंद्र कुमार ने विवादित बयान दिया। अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन के सवाल पर कौशलेंद्र कुमार भड़क उठे। उन्होंने उल्टे सवाल उठा दिया। पूछा कि क्या यह किसी के बेटे की शादी है कि निमंत्रण दिया जा रहा है? अगर वे मुझे आमंत्रित नहीं करेंगे, क्या मैं अयोध्या नहीं जाऊंगा? इस निमंत्रण की क्या जरूरत है? 

सांसद कौशलेंद्र इतने में नहीं थमे। उन्होंने आगे पूछा कि क्या यह किसी के पिता का श्राद्ध है या किसी के बेटे की शादी? जो निमंत्रण दे रहा है वह मूर्ख है। अयोध्या सबकी है, अगर कोई कब्जा करने की कोशिश कर रहा है ऐसा नहीं होगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ की निजी जिंदगी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग 22 जनवरी को वहां पहुंच रहे हैं, जो पति-पत्नी दोनों भगवान राम और मां सीता का आशीर्वाद लेंगे। अगर कोई अपनी पत्नी के बिना अयोध्या जाता है तो उसे 2024 में कोई फायदा नहीं होने वाला है। 

सत्येन्द्र दास बोले- मूर्ख हमेशा मूर्ख की तरह ही बोलेगा
सांसद के बिगड़े बोल पर सियासत शुरू हो गई है। जदयू सांसद कौशलेंद्र कुमार की टिप्पणी पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास ने निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मूर्ख हमेशा मूर्ख की तरह ही बोलेगा। वह स्वयं मूर्ख है। निमंत्रण सम्मान पत्र हैं जिसमें किसी को आमंत्रित किया जा रहा है। भगवान राम से जुड़े जो भव्य कार्य किए जा रहे हैं। जो छोटे-छोटे कार्य किए जाते हैं, हम उनके लिए निमंत्रण भेजते हैं। जिस मूर्ख को कोई ज्ञान नहीं है, वह हमेशा ऐसी भाषा का प्रयोग करेगा। उसे अपनी मूर्खता अपने तक ही सीमित रखनी चाहिए। 

22 जनवरी को होगी प्राण-प्रतिष्ठा
अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्घाटन होगा। इसके साथ ही रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा होगी। पीएम मोदी रामलला की प्रतिमा को गर्भगृह में स्थापित करेंगे। इसके लिए देशभर के तमाम नेताओं को निमंत्रण दिया गया है। साधु संतों और 150 देशों के राजनयिकों को भी बुलावा भेजा गया है। 

 

5379487