Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जटिल आंकड़े आसानी से याद होंगे, मैमोरी किंग डॉ. हिम्मत ने खोजा नायाब तरीका

कार्ड्स को आरएचआर वर्ल्ड रिकार्डस (यूके), वर्ल्ड रिकार्डस इंडिया, वर्ल्ड एमेजिंग रिकार्डस द्वारा रिकार्ड के तौर पर भी दर्ज कर लिया गया है।

जटिल आंकड़े आसानी से याद होंगे, मैमोरी किंग डॉ. हिम्मत ने खोजा नायाब तरीका
X
गुड़गांव. रोजर्मरा व भागदौड़ भरी जिंदगी में अब लोगों को नंबर (संख्या) भूलने की समस्या से निजात दिलाने के लिए मैमोरी किंग डॉ. हिम्मत भारद्वाज ने आसान तरीका खोज निकाला है। नंबरों को भूलने की परेशानी को दूर करने के लिए उन्होंने ताश के पत्ताें की तर्ज पर एनएमसी (नंबर मैमोराइजेशन कार्डस) इजाद कर दिए हैं।
एनएमसी के जरिये आमजन के साथ-साथ छात्रों व आम लोगों को भी अपने दैनिक जीवन में किसी भी नंबर को याद रख पाना अब आसान होगा। डॉ. हिम्मत ने बताया कि एनएमसी के ताश रूपी 52 पत्ते मैमोरी को बढ़ाने के साथ-साथ नंबरों के जटिल आंकड़ों को आसानी से याद रखने में मील का पत्थर साबित होंगे।
नंबरों की मैमोरी के लिए तैयार किए गए कार्ड्स को आरएचआर वर्ल्ड रिकार्डस (यूके), वर्ल्ड रिकार्डस इंडिया, वर्ल्ड एमेजिंग रिकार्डस द्वारा रिकार्ड के तौर पर भी दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि एनएमसी मैमोरी बढ़ाने के संबंध का नियम व कल्पना शक्ति के वैज्ञानिक सिद्धांतों पर बनाए गए है। वैज्ञानिकों के अनुसार जब किसी भी चीज को इमेज करके अपनी कल्पना शक्ति में देखते हैं तो हम उसे अच्छे से याद रख पाते है तथा कल्पना शक्ति में देखी हुई चीज को किसी चीज से संबंध स्थापित करते है तो वह आसानी से याद आ जाती है तथा लंबे समय तक याद रहती है। इन कार्डस में 100 मेमोरी के कोड दिए गए हैं, जो कि फोनेटिक मैथड व साउंड बेस्ट पर आधारित है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story