Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ALERT! अगर आपके फोन में भी है ये फेक ऐप्स, तो जल्द करें डिलीट, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान

इस साल फेक ऐप्स को लेकर कई बड़ी जानकारी पूरी दुनिया के सामने आई है। इस साल की शुरूआत में ही कई रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें पता चला था कि कई फेक ऐप्स है।

ALERT! अगर आपके फोन में भी है ये फेक ऐप्स, तो जल्द करें डिलीट, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान
X

इस साल फेक ऐप्स को लेकर कई बड़ी जानकारी पूरी दुनिया के सामने आई है। इस साल की शुरूआत में ही कई रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें पता चला था कि कई फेक ऐप्स है, जिनको गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया था।

इस समय सबसे ज्यादा लोग एंड्रोइड प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते है और अब एक और रिपोर्ट जारी हुई है, जिसमें कई फेक ऐप्स की जानकारी दी है।

Tech Tips / ऐसे करें Paytm से अपना मेट्रो कार्ड रिचार्ज, जानें पूरा प्रोसेस

फेक ऐप्स को लेकर क्विक हील ने अपने एक पोस्ट में इसकी जानकारी दी है। जिसमें पता चला है कि PDF रीडर, PDF डाउनलोडर और PDF स्कैनर जैसे ऐप्स में वायरस हो सकता है।

ये ऐप्स स्कैनर की तरह काम करते है, लेकिन हकिकत में ये ऐप्स स्कैनर की तरह काम नहीं करते है। वहीं यह भी पता चला है कि गूगल प्ले स्टोर पर इन ऐप्स को 50 हजार से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।

ये ऐप्स यूजर्स को ऐप डाउनलोड करने को कहता है। इसके बाद ऐप को ओपन करने के लिए 5 स्टार की रेटिंग की मांग करता है। रिपोर्ट के अनुसार, 24 घंटों के बाद फिर से एक बार यह प्रोसेस रिपीट होता है।

रिपोर्ट के अनुसार, इन ऐप्स का मकसद होता है कि डाउनलोड्स की संख्या बढ़ाना और स्पॉन्सर्स ऐप्स को अच्छी रेटिंग दिलाना होता है। ऐसे फेक ऐप को डाउनलोड करने से पहले यूज़र्स को सावधान रहना चाहिए। यूज़र्स इन ऐप का रिव्यू पढ़कर आसानी से उसके बारे में जानकारी जुटा सकते है।

Best Prepaid Plans / ये हैं Airtel के बेस्ट बजट डेटा प्लान, ऐसे उठाएं लाभ

बता दें कि नेशनल हेल्थ एजेंसी ने भी हाल ही में लोगों को फ्रॉड से बचाने के लिए सरकार के आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की जानकारी शेयर करने वाली फक वेबसाइटों की लिस्ट जारी की है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story