Logo
सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर (Electric Two-Wheelers) पर मिलने वाली सब्सिडी में कटौती के बाद इनकी डिमांड में कमी आई है। हालांकि, कंपनियां अपने लेवल पर गाड़ियों पर डिस्काउंट दे रही थीं।

FAME-III Subsidy: सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर पर मिलने वाली सब्सिडी में कटौती के बाद इनकी डिमांड में कमी आई है। हालांकि, कंपनियां अपने लेवल पर गाड़ियों पर डिस्काउंट दे रही थीं। ऐसे में अब मोदी सरकार के एक बार फिर सत्ता में आने पर फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ हाइब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (FAME) स्कीम को फिर से शुरू होने की संभावना जताई जा रही है। माना जा रहा है कि इस सब्सिडी के आने से गाड़ियों की कीमतों में एक बार फिर बड़ा अतर देखने को मिलेगा।

10,000 करोड़ रुपए आवंटित होने की संभावना
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार 2024 के बजट में FAME-III योजना की घोषणा कर सकती है। इसके लिए 10,000 करोड़ रुपए आवंटित किए जाने की संभावना जताई जा रही है। अगर योजना के तहत सब्सिडी फिर से शुरू होती है, इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की कीमतें एक बार फिर बैटरी कैपेसिटी के हिसाब से कम हो सकती है। बता दें सरकार द्वारा प्रति किलोवाट पर सब्सिडी मिल रही थी।

अभी FAME-II सब्सिडी बंद हो चुकी
बता दें कि सरकार द्वारा FAME-II और राज्यों द्वारा सब्सिडी को मार्च में बंद कर दिया गया था, जिससे इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर की कीमतें काफी बढ़ चुकी हैं। इसके चलते अप्रैल में ही इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर की सेल्स भी काफी डाउन हुई थी। हालांकि, कई राज्य तब भी सब्सिडी नहीं दे रहे थे। इलेक्ट्रिक व्हीकल की बढ़ती कीमतों से निपटने के लिए कंपनियों ने कम रेंज वाले कई मॉडल भी लॉन्च किए। इनमें कई फीचर्स की भी कटौती की। ताकि सेल्स पर बुरा असर नहीं पड़े।

कंपनियों ने अफॉर्डेबल मॉडल लॉन्च किए
बता दें कि ओला इलेक्ट्रिक इस समय देश की नंबर-1 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर कंपनी है। कंपनी ने अपनी सबसे किफायती S1 X सीरीज लॉन्च की है। जिसकी शुरुआती कीमत 70 हजार रुपए है। इसके साथ,TVS मोटर, एथर एनर्जी और बजाज चेतक इलेक्ट्रिक के साथ दूसरी कंपनियों ने भी अपने किफायती मॉडल लॉन्च किए हैं। ताकि उनके मॉडल की डिमांड मार्केट में बनी रहे। फिलहाल सरकार की तरफ से अभी इस बात की पुष्टि नहीं की गई है।

थ्री-व्हीलर के लिए भी स्कीम लॉन्च हुई
भारत सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर और थ्री-व्हीलर की सेल्स को बढ़ावा देने के लिए मार्च में नई इलेक्ट्रिक मोबिलिटी प्रमोशन स्कीम (EMPS) की घोषणा की गई थी, जिसके लिए 500 करोड़ रुपए आवंटित किए थे। यह योजना जुलाई तक ही लागू रही। इसके तहत प्रति इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर पर 10,000 रुपए की फाइनेंशियल मदद दी जाती है। दूसरी तरफ, इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर की खरीद के लिए 25,000 रुपए की सब्सिडी दी जा रही है।

(मंजू कुमारी)
 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487