logo
Breaking

यहां रोबोट ग्राहकों को टेबल पर खाना परोसते हैं

हैदराबाद में पहली बार एक एेसा रेस्तंरा खोला गया है जहां रोबोट ग्राहकों को टेबल पर खाना परोसते हैं। इस रेस्तंरा का नाम रोबो किचेन रखा गया है। इसमें चार रोबोट काम करते हैं।

यहां रोबोट ग्राहकों को टेबल पर खाना परोसते हैं

हैदराबाद में पहली बार एक एेसा रेस्तंरा खोला गया है जहां रोबोट ग्राहकों को टेबल पर खाना परोसते हैं। इस रेस्तंरा का नाम रोबो किचेन रखा गया है। इसमें चार रोबोट काम करते हैं। रोबोट किचेन से सीधे खाना लेकर ग्राहकों को टेबल पर पहुंचा देते हैं। अपनी तरह का अनोखा रेस्तंरा होने की वजह से ग्राहक अक्सर यहां खींचे चले आते हैं। इस रेस्तंरा को ग्राहकों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है।

चेन्नई के बाद अब हैदराबाद के जूबिली हिल्स में शहर का पहला ऐसा रेस्तरां खोला गया है, जहां रोबॉट खाना परोसते दिखाई देंगे। इन्हें ब्यूटी सर्विंग रोबॉट नाम दिया गया है। रेस्तरां में वर्तमान में 4 रोबॉट हैं और उन्हें एक दिन तक काम करने के लिए 3 घंटे चार्ज करना पड़ता है। शहर के अलकजर मॉल में खुले इस रेस्तरां में इस तरह के इंतजाम के पीछे तीन दोस्तों का दिमाग है।

हर रोबोट की कीमत 5 लाख रुपए

प्रसिद्ध सेठिया, मणिकांत गौंड़ और मणिकांत यादव ने मिलकर इस आइडिया को मूर्त रूप दिया है। रेस्तरां में लगे हर रोबोट की कीमत तकरीबन 5 लाख रुपए बताई जाती है। रोबो किचन के मुख्य पार्टनर मणिकांत बताते हैं, हम कस्टमर को एक टैब उपलब्ध कराते हैं, वे इसका इस्तेमाल करके मैन्यू से कुछ ऑर्डर कर सकते हैं। उन्होंने आगे बताया,इसके बाद ऑर्डर किचन में जाता है और रोबोट खाना सर्व करते हैं। इस तरह का एक रेस्तरां चेन्नई में है और हम इसे हैदराबाद में भी लाना चाहते थे। हमें कस्टमर से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है।

बुडापेस्ट में भी खुला है एक ऐसा कैफे

हाल ही में बुडापेस्ट में एक कैफे खोला गया जहां रोबोट खाना सर्व करते हैं,कस्टमर से बातें करते हैं और उनके साथ डांस भी करते हैं। आईटी कंपनी ई-एसजोफ्टवर्फइजलेजटू ने एन्जॉय बुडापेस्ट कैफे शुरू किया। बुडापेस्ट के कैफे में रोबोट तय रास्तों से अपने हाथों में खाना लेकर कस्टमर तक पहुंचते हैं। लोगों को रोबोट के रास्ते से अलग रहने को कहा जाता है। वहीं कुछ रोबोट रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करते हैं। करीब 12 घंटे तक इन रोबोट के काम करने के लिए कई टेक्नेशियन को भी यहां नौकरी पर रखा गया।

Share it
Top