Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश से एक घंटा आगे चलेगा असम!

रूस, अमेरिका और कनाडा में हैं अलग-अलग टाइम जोन।

देश से एक घंटा आगे चलेगा असम!
X
गुवाहाटी. अभी तक पूरा देश इंडियन स्टैंडर्ड टाइम के हिसाब से चलता है और पूरे देश की घड़ियां एक साथ चलती हैं। लेकिन शायद अब असम इस मानक को न मानें और अपना अलग टाइम स्टैंडर्ड लागू कर लें। असम ने अपना अलग टाइम जोन अपनाने का फैसला किया है। इस टाइम जोन को असम में चायबागान टाइम कहा जाता है। अगर असम ने चायबागान टाइमजोन लागू किया तो असमवासी बाकी भारत से एक घंटे आगे हो जाऐेंगे।
सन लाइट को बेहतर प्रयोग में लाने और ऊर्जा बचाने की दलील देते हुए असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगई ने यहां का स्थानीय समय एक घंटा आगे बढ़ाने का प्रस्ताव रखा है। नार्थ-ईस्ट स्टेट्स में देश के अन्य राज्यों के मुकाबले सूरज जल्दी निकलता है।
असम के चाय बागान और तेल कम्पनियों तो पहले से ही स्थानीय टाइम सिस्टम के मुताबिक चलती हैं। चाय बागान तो ब्रिटिश काल से ही यह सिस्टम अपना रही हैं। चाय बागानों में काम सुबह 8 बजे शुरू हो जाता है, जबकि तेल कम्पनियां सुबह 7 बजे से काम शुरू कर देती हैं। कारण है इस क्षेत्र में सूरज का जल्दी निकलना। असम में काम के घंटों को एक घंटा आगे किया जाना चाहिए। इससे न केवल ऊर्जा की बचत होगी, बल्कि उत्पादकता भी बढ़ेगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को- फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर
नीचे की स्लाइ्ड्स में जाने और किस देश में लागू है अलग-अलग टाइम जोन-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story