Logo
Nokia brings world's first Immersive Voice Call: Nokia फोन कॉल एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने के लिए एक नई टेक्नोलॉजी लाया है। कंपनी के सीईओ ने कहा है कि यह दुनिया की पहली इमर्सिव कॉल हैं, जो ‘भविष्य की कॉल’ होगी।

Nokia brings world's first Immersive Voice Call: नोकिया स्मार्टफोन में एक कॉलिंग एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने के लिए एक शानदार फीचर लेकर आया है। ब्रांड ने दुनिया की पहली इमर्सिव कॉल को लाकर रिकॉर्ड बना लिया है, क्योंकि अभी तक टेक मार्केट में ऐसा कोई फीचर मौजूद नहीं हैं। यह एक ऐसी तकनीक है जो फोन कॉल पर बात करने के एक्सपीरियंस को पूरी तरह से बदल देगा।

इसकी खास बात है कि यह क़ॉलिंग के समय एकदम क्लीयर और हाई क्वालिटी की वॉयस सुनिश्चित करता है। यह टेक्नोलॉजी कॉलिंग के समय आवाज की क्वालिटी को बढ़ा देता है, जिससे जब आप किसी से बात करते है तो आपको ऐसा लगेगा कि वह व्यक्ति बिल्कुल आपके पास ही बैठा है। इस फीचर को लेकर कंपनी के सीईओ ने भी टिप्पणी की है। चलिए अब इस फीचर के बारें विस्तार से जानते हैं। 
 
सीईओ पेक्का लुंडमार्क ने क्या कहा? 
Nokia ब्रांड के सीईओ पेक्का लुंडमार्क ने इमर्सिव वॉयस और ऑडियो टेक्नोलॉजी में अपडेट को ‘भविष्य की कॉल’ बताया है। उन्होंने कहा कि वह 1991 में पहली 2G कॉल का भी उपयोग कर चुके है। लेकिन इतने सालों के बाद भी मौजूदा फोन कॉल की क्वालिटी उतनी बेहतर नहीं जिनता होना चाहिए। वर्तमान में भी हम यदि किसी शख्स से फोन पर बात करते हैं, तो कॉल की आवाज अलग होती है। क्योंकि मौजूदा फोन तकनीक आवाज को दबा देती है, जिससे सही और स्पष्ट आवाज नहीं आती हैं। 

कॉल में 3D साउंड का मजा
Nokia द्वारा जारी इमर्सिव कॉस में यूजर्स को 3D साउंड लुफ्त मिलेगा। इस फोन कॉल का उपयोग करके बात करने पर आपको ऐसा प्रतीत होगा कि वह सामने वाला इंसान बिल्कुल आपके सामने बैठा है। इसकी खास बात है कि यह कॉल कॉन्फ्रेंस कॉल में भी काम आएगी। नोकिया ने इस 5G इमर्सिव कॉल के लिए एक मामूली हैंडसेट का उपयोग किया है। 

कैसे काम करेगी इमर्सिव कॉल?
यदि आप अपने फोन में इस इमर्सिव कॉल का उपयोग करना चाहते है, तो इसके लिए आपको फोन में 2 माइक्रोफोन को लगवाना होगा। इससे फोन कॉल की आवाज क्वालिटी बेहतर हो जाएगी और कॉल में रियल-टाइम एक्सपीरियंस मजा दोगुना हो जाएगा। यह इमर्सिव कॉल अपकमिंग 5G एडवांस्ड का हिस्सा है। फिलहाल Nokia इस टेक्नोलॉजी को रिलीज करने के लिए लाइसेंस हासिल करने की तैयारी में है। इस तकनीक को अभी अधिक लोगों तक पहुंचने में कुछ साल लग सकते हैं।   

ये भी पढ़े- व्हाट्सऐप Google Meet और जूम को टक्कर देने लाया धांसू फीचर: एक साथ Video कॉल पर जुड़ पाएंगे 32 लोग, जानें कैसे   

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487