Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ममता के साथ नहीं जाएगी लेफ्ट, सीपीएम नेता गौतम देब ने किया गठबंधन की संभावना से इंकार

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के उस बयान से जिसमें उन्‍होंने लेफ्ट पार्टियों से गठबंधन की बात कही थी पर सीपीएम सीपीएम नेता गौतम देब ने गठबंधन की बात को एक सिरे से नकार दिया है।

ममता के साथ नहीं जाएगी लेफ्ट, सीपीएम नेता गौतम देब ने किया गठबंधन की संभावना से इंकार
कोलकात्‍ता. बिहार में राजद और जदयू गठबंधन के बाद पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के हालिया बयान से कयास लगाए जा रहे थे कि तृणमूल कांग्रेसे और लेफ्ट पार्टियां एक साथ आ सकती हैं लेकिन सीपीएम नेता गौतम देब ने किसी भी तरह के गठबंधन से इंकार कर दिया है। दरअसल ममता बनर्जी ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि सीपीएम के साथ गठबंधन के प्रस्ताव पर वह विचार कर सकती हैं। उनका यह बयान इसलिए अप्रत्याशित था क्योंकि ममता बनर्जी अब तक कम्यूनिस्ट पार्टियों की कट्टर विरोधी रही हैं। इंटरव्यू में यह सवाल पूछे जाने पर कि क्या बिहार की तरह का गठबंधन उनके राज्य में भी संभव है,
ममता ने शुक्रवार को कहा था कि राजनीति में कोई भी अछूत नहीं है और अगर सीपीएम की तरफ से कोई प्रस्ताव आया तो तृणमूल कांग्रेस उस पर विचार कर सकती है। ममता के इस बयान से इतर सीपीएम पश्चिम बंगाल राज्य समिति के सचिवालय सदस्य गौतम देब ने कहा, 'उनका (ममता) बयान गंभीरता से न लिया जाए। सारदा स्कैम में फंसी ममता लेफ्ट की मदद लेना चाहती हैं।' हालांकि, लेफ्ट की तरफ तृणमूल के रवैये में नरमी 10 जून के बाद से दिखने लगी थी, जब उन्होंने लेफ्ट फ्रंट के चैयरमेन बिमन बोस के नेतृत्व में लेफ्ट के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की थी।
नीचे की स्लाइड्स में जानिए, ममता के बयान पर बीजेपी की प्रतिक्रिया-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Share it
Top