Logo
राजस्थान सरकार ने कैबिनेट बैठक के बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी करने का फैसला किया है। वहीं, राज्य के कर्मचारियों के डीए में भी 2 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है।

लोकसभा चुनाव 2024 से ठीक पहले प्रदेश की भाजपा सरकार ने जनता को बड़ी राहत दी है। प्रदेश सरकार ने कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया है, जिसमें राज्य सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर लगने वाला वैट 2 प्रतिशत कम कर दिया है। इसके बाद पेट्रोल के दाम में 1.40 रुपए से लेकर 5.30 रुपए की कमी आएगी। जबकि डीजल 1.34 रुपए से लेकर 4.85 रुपए सस्ता हो गया है। नए कीमतें शुक्रवार सुबह 6 बजे से लागू होंगी। इधर, राज्य सरकार ने कर्मचारियों का भी फायदा किया है। कर्मचारियों का डीए 2 प्रतिशत बढ़ा है। 

राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि कर्मचारियों का बढ़ा हुआ भत्ता 1 जनवरी 2024 से लागू होगा। इससे प्रदेश के 4 लाख 40 हजार पेंशनर्स की पेंशन बढ़ेगी, जबकि 8 लाख सरकारी कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ पंचायत समिति और जिला परिषद के कर्मचारियों को भी मिलेगा। राज्य सरकार के इस फैसले से राजस्व पर 1640 करोड़ रुपए का बोझ आएगा।

आपको बता दें कि वर्तमान में राज्य में पेट्रोल पर 31 प्रतिशत और डीजल पर 19 प्रतिशत वैट लगता है। 

पेपर लीक में कार्रवाई जारी रहेगी 
सीएम भजनलाल शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेस को संबोधित करते हुए पेपर लीक पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मामले की जांच करते हुए दोषियों पर कार्रवाई करेंगे। SIT ने अपना किया है। 13 प्रकरणों की जांच चल रही है। अभी तक 63 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। 

jindal steel Ad
5379487