Logo
Mumbai Hoarding Collapse: करीब 15 हजार वर्ग फीट की होर्डिंग बिना परमीशन लगाई गई थी। यह होर्डिंग लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है। पुलिस ने होर्डिंग का निर्माण कराने वाली एजेंसी एम/एस ईगो मीडिया और उसके मालिक के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है। 

Mumbai Hoarding Collapse: मुंबई के घाटकोपर इलाके में सोमवार को भयंकर तूफान के बीच एक बिलबोर्ड (होर्डिंग) गिरने से बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे में मृतकों की संख्या 14 पहुंच गई है। जबकि 74 से अधिक लोग घायल हैं। करीब 15 हजार वर्ग फीट की होर्डिंग बिना परमीशन लगाई गई थी। यह होर्डिंग लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है। पुलिस ने होर्डिंग का निर्माण कराने वाली एजेंसी एम/एस ईगो मीडिया और उसके मालिक के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है। 

पंत नगर पुलिस स्टेशन में होर्डिंग के मालिक भावेश भिंडे और अन्य के खिलाफ IPC की धारा 304, 338, 337 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।  

अचानक बदला मौसम, आसमान में छाए घने बादल
दरअसल, सोमवार, 13 मई की शाम मुंबई में अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। आसमान में घने बादल छा गए। धूल भरी आंधी चली। बारिश शुरू हो गई। इसी आंधी के बीच घाटकोपर की समता कॉलोनी रेलवे पेट्रोल पंप पर लगा विशाल बिलबोर्ड भरभराकर गिर गया। जिसके नीचे काफी लोग दब गए। चीख-पुकार मच गई। आनन-फानन में पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची। स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। बिलबोर्ड के गिरने का वीडियो भी सामने आया है। 

हादसे के वक्त पेट्रोल पंप के पास 100 से अधिक मौजूद थे। मंगलवार, 14 मई की तड़के तीन बजे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बिलबोर्ड के नीचे दबे 86 लोगों को बाहर निकाला गया। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। इस दौरान 14 लोगों की मौत हो गई। घायल 74 लोगों का इलाज चल रहा है। जबकि 31 लोगों को मरहम पट्टी के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। 

 Mumbai Billboard
Mumbai Billboard

एक प्रत्यक्षदर्शी स्वप्निल खुपटे ने बताया कि मैं वहीं था, जब होर्डिंग गिर गई। वहां मौजूद सभी कारें, बाइक और लोग फंस गए। हमने लोगों को बाहर निकलने और किसी तरह भागने में मदद की। पुलिस ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमें घटनास्थल पर हैं और मलबे में फंसे जीवित बचे लोगों की तलाश कर रही हैं।

देखिए कैसे गिरा बिलबोर्ड...

मृतकों के परिवारों को मिलेंगे 5 लाख
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि लोगों को बचाना प्राथमिकता है और जो लोग घायल हुए हैं उनके इलाज का खर्च सरकार उठाएगी। शिंदे ने कहा कि जिन लोगों ने अपनी जान गंवाई है उनके परिवार को 5 लाख रुपये दिए जाएंगे। मैंने संबंधित अधिकारियों को मुंबई में ऐसे सभी होर्डिंग्स की जांच करने का निर्देश दिया है।

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि राज्य सरकार ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

मुंबई में कई जगह उखड़े पेड़, कई जिलों में बिजली गुल
बेमोसम बारिश से गर्मी से राहत जरूर मिली। लेकिन ठाणे के कलवा और कुछ अन्य इलाकों में बिजली गुल होने से लोग परेशान हो गए। ठाणे, अंबरनाथ, बदलापुर, कल्याण और उल्हासनगर में बारिश हुई। तेज धूल भरी आंधी से मुंबई बुरी तरह प्रभावित हुई है। परिवहन बाधित हो गया। कई जगह पेड़ उखड़ गए। लोकल ट्रेन, मेट्रो और हवाई यातायात पर असर पड़ा। 

मुंबई एयरपोर्ट ने बताया कि शहर में खराब मौसम और धूल भरी आंधी के कारण छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (CSMIA) ने लो विजिबिलिटी और तेज हवाओं के कारण लगभग 66 मिनट के लिए फ्लाइट्स के टेक ऑफ और लैंडिंग को रोकना पड़ा। 

CH Govt jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487