Logo
Satna MP Ganesh Singh viral video: सांसद गणेश सिंह शुक्रवार को उचेहरा में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, साम-दाम, दंड-भेद, अस्त्र-शस्त्र चाहे जो चलाओ, लेकिन भाजपा को बूथ जिताओ।

Satna MP Ganesh Singh viral video: मध्य प्रदेश की सतना लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी और सांसद गणेश सिंह ने शुक्रवार को कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कुछ ऐसा बोल दिया कि उनका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने लगा। कांग्रेस ने उनके इस बयान पर ऐतराज जताया है। वहीं सोशल मीडिया पर भी तरह-तरह की प्रतिक्रिएं मिल रही हैं।  

दरअसल, सांसद गणेश सिंह शुक्रवार को उचेहरा में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान सतना सांसद ने कार्यकर्ताओं जोशीले अंदाज में प्रेरित करते हुए कहा, कल आचार संहिता लागू हो जाएगी। आचार संहिता के लिए महज 60 दिन बचे हैं। इसलिए साम-दाम, दंड-भेद, अस्त्र-शस्त्र चाहे जो चलाओ, लेकिन भाजपा को बूथ जिताओ। मोदी जी को तीसरी बार पीएम बनाओ। 

सांसद के बयान पर कांग्रेस का ऐतराज 
कांग्रेस के कार्यकारी जिलाध्यक्ष अतुल गौतम डब्बू ने सांसद गणेश सिंह के इस बयान और उसमें उपयोग की भाषाशैली पर ऐतराज जताया है। कहा, वोट के खातिर कार्यकर्ताओं को इस तरह उसकाना ठीक नहीं है। पिछले विधानसभा चुनाव में कई विवाद हुए थे। गणेश सिंह 20 साल से सांसद हैं। उन्हें संसदीय क्षेत्र में कराए गए विकास कार्यों और उपलब्धियों के आधार पर चुनाव जीतना चाहिए न कि उपद्रव कराकर।

कौन हैं गणेश सिंह 
गणेश सिंह पिछले 20 साल से भाजपा सांसद हैं। सतना-रीवा सहित विंध्य अंचल में पार्टी के बड़े ओबीसी नेताओं में गिने जाते हैं। सतना संसदीय क्षेत्र से 2004 में पहली बार लोकसभा सदस्य निर्वाचित हुए थे। इससे पहले वह जिला पंचायत अध्यक्ष भी रहे। 2003 में भाजपा की सदस्यता ली और 2004 में पार्टी ने सिटिंग सांसद रामानंद सिंह की टिकट काटकर गणेश को प्रत्याशी बनाया। गणेश सिंह 2004 में कांग्रेस के राजेंद्र सिंह, 2009 में सुखलाल कुशवाहा, 2014 में अजय सिंह राहुल और  2019 में राजाराम त्रिपाठी को हराकर लोकसभा सांसद बने, लेकिन 2023 के विधानसभा चुनाव में सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा से हार गए थे। इस चुनाव में सिद्धार्थ और गणेश एक बार फिर आमने-सामने हैं। 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487