Logo
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 2024 के चुनाव कांग्रेस के लिए अंतिम चुनाव हो सकते है। कांग्रेस में आपसी फुट खुलकर सामने आ रही है। वहीं, आम आदमी पार्टी पानी के बुलबुले की तरह है, जो फूट चुका है।

Hisar: उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कांग्रेस की गुटबाजी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 2024 के चुनाव कांग्रेस के लिए अंतिम चुनाव हो सकते है। कांग्रेस में आपसी फुट खुलकर सामने आ रही है। इससे एक चीज तो स्पष्ट है कि जो कांग्रेस हरियाणा में राज बनाने की बात करती है, वह दो फाड़ हो चुकी है। भूपेंद्र हुड्डा गुट और एसआरके गुट अपनी अलग-अलग एक्टिविटी कर रहे है। इतना ही नहीं, कांग्रेस प्रभारी की चिट्ठी के बाद भी कांग्रेस में अनुशासन नहीं दिख रहा। ऐसे में जिस पार्टी में हाईकमान के दिशा-निर्देश लागू नहीं होते, उस पार्टी का विनाश ही होता है। दुष्यंत चौटाला हिसार में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

पानी के बुलबुले की तरह आम आदमी पार्टी

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आम आदमी पार्टी पानी के बुलबुले की तरह है। यह बुलबुला फूट चुका है। पंजाब विधानसभा चुनाव के बाद हरियाणा के कई नेता आम आदमी पार्टी से जुड़े थे लेकिन अब वापस वही नेता पार्टी छोड़-छोड़कर जा रहे है। उन्होंने आम आदमी पार्टी छोड़कर भाजपा में जाने के लिए पूर्व सांसद अशोक तंवर को शुभकामनाएं दी।

भगवान राम सभी के, कार्यक्रम में सबको लेना चाहिए हिस्सा

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह से जुड़े सवाल पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यह आस्था से जुड़ा विषय है। भगवान राम सबके है इसलिए सबको कार्यक्रम में हिस्सा लेना चाहिए। जेजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष को प्राण प्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण मिला है और वे इस कार्यक्रम में भाग लेंगे। आगामी चुनावों की तैयारियों पर उन्होंने कहा कि बीजेपी और जेजेपी दोनों सभी 10 लोकसभा और सभी 90 विधानसभा सीटों पर चुनाव की तैयारियां कर रही है। जहां तक गठबंधन और सीट शेयरिंग का विषय है तो उस पर हाईकमान बैठकर चर्चा करेगा।

भूपेंद्र हुड्डा ने गलत तरीके से बेची थी जमीन

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भूपेंद्र हुड्डा ने जमीन बेची थी, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सीबीआई जांच हुई और इसमें सामने आया कि गलत तरीके से जमीन को बेचा गया। सुप्रीम कोर्ट का यह भी आदेश था कि यह जमीन वापस एचएसआईआईडीसी को दी जाए और एचएसआईआईडीसी प्रोजेक्ट को पूरा करके अगर जमीन को बेच सकती है तो बेचे। मौजूदा सरकार ने दो ऑक्शन निकाले और इसमें एक हजार करोड़ से ज्यादा रुपए प्रदेश सरकार के खजाने में आया। वहीं चार छोटी-छोटी साइट का अभी ऑक्शन जारी है। पूर्व कांग्रेस सरकार में इस अधिग्रहण प्रक्रिया से प्राइवेट बिल्डर जो पैसा कमाते, वो आज मौजूदा सरकार के प्रयास से सरकारी खजाने में आया और उसका उपयोग आमजन की भलाई में होगा।

jindal steel Ad
5379487