Logo
election banner
Jamnagar Two-Year-Old Rescued: बोरवेल के बगल का बड़ा गड्ढा बनाया गया। इसके सहारे टीम ने नौ घंटे से अधिक के ऑपरेशन के बाद बुधवार सुबह लगभग 4 बजे उसे बचा लिया गया। अधिकारियों के मुताबिक, बच्चे को इलाज के लिए तुरंत जामनगर के एक अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया।

Jamnagar Two-Year-Old Rescued: गुजरात में जामनगर के गोवना गांव में आखिरकार जिंदगी जीत हुई। मंगलवार शाम बोरवेल में गिरे दो साल के बच्चे को बुधवार तड़के बचा लिया गया। बच्चे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 9 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद मासूम को सुरक्षित देखकर उसके माता-पिता और अन्य परिवारीजनों ने राहत की सांस ली है। बच्चे की हालत स्थिर बताई जा रही है। 

 Jamnagar Boreweel Incident
Jamnagar Boreweel Incident

मध्य प्रदेश का है परिवार
मध्य प्रदेश के रहने वाले दंपती परिवार के साथ 15 दिन पहले मजदूरी के लिए जामनगर पहुंचे। परिवार ने जामनगर से 40 किमी दूर लालपुर तालुका क्षेत्र के गोवना गांव में डेरा जमाया है। मंगलवार की शाम साढ़े 6 बजे दंपती का 2 साल का बच्चा राजू बोरवेल में गिर गया था। प्रशासन को इसकी सूचना मिली तो तुरंत बचाव अभियान के लिए अग्निशमन सेवा विभाग की दो टीमें और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमों को बुलाया गया।

बोरवेल के बगल बनाया गड्ढा
बोरवेल के बगल का बड़ा गड्ढा बनाया गया। इसके सहारे टीम ने नौ घंटे से अधिक के ऑपरेशन के बाद बुधवार सुबह लगभग 4 बजे उसे बचा लिया गया। अधिकारियों के मुताबिक, बच्चे को इलाज के लिए तुरंत जामनगर के एक अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया। उसकी हालत स्थिर है। 

द्वारका की बच्ची की नहीं बची थी जान
इससे पहले जनवरी में गुजरात के द्वारका जिले में एक बोरवेल में गिरी तीन साल की बच्ची की बचाव के एक घंटे के भीतर अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई थी। एंजेल सखरा के रूप में पहचानी गई लड़की को आठ घंटे के लंबे ऑपरेशन के बाद बचाया गया और खंभालिया शहर के एक सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

jindal steel Ad
5379487