Logo
दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी आज से अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गई हैं। वह केंद्र से दिल्ली को हरियाणा सरकार से पानी दिलाने की मांग कर रही हैं। उनका कहना है कि अब उनके पास केवल अनशन पर बैठने का ही विकल्प बचा है।

Delhi Water Crisis:  दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी ने पानी की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गई हैं। इस मौके पर सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सरीता केजरीवाल भी मौजूद रहीं। आम आदमी पार्टी ने इस अनशन को सत्याग्रह का नाम दिया है और इससे जुड़ने के लिए इंडिया गठबंधन के सभी दलों से समर्थन की अपील भी की है। 

दरअसल, आतिशी दोपहर 12 बजे से अपना अनशन शुरू कर दिया है। यह अनशन जंगपुरा के भोगल इलाके में हो रहा है। भूख हड़ताल पर बैठने से पहले आतिशी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने राजघाट पहुंची। आतिशी का कहना है कि जल मंत्री के रूप में, उन्होंने दिल्ली वालों को उनके हक का पानी दिलाने के लिए हर संभव प्रयास किए। उन्होंने केंद्र, हरियाणा सरकार और हिमाचल प्रदेश सरकार से बात की। सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया और पीएम को पत्र भी लिखा। लेकिन, इसके बाद भी कोई समाधान नहीं निकला। ऐसे में मंत्री ने कहा कि  ''अब मेरे पास विरोध प्रदर्शन के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।''

आतिशि ने आगे कहा कि ''हर संभव प्रयास करने के बावजूद, मैं दिल्ली के लोगों को पानी नहीं दिला पाई हूं। और अब मैं उनकी पीड़ा नहीं देख सकती हूं। इसलिए, दिल्ली के लोगों को पानी दिलाने के लिए, हरियाणा से पानी का उचित हिस्सा लेने के लिए मैं अनिश्चितकालीन भूखहड़ताल पर बैठूंगी। ताकि, 28 लाख लोगों की प्यास बुझाई जा सके।''

आतिशी ने जल संकट को लेकर पीएम मोदी को भी लिखा था पत्र

बता दें कि आतिशी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की थी। उन्होंने ये भी कहा था कि अगर दिल्ली वालों को 21 जून तक पानी नहीं मिला तो वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चली जाएंगी।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487