Logo
election banner
कांकेर मुठभेड़ के बाद अब एक-एक कर मारे गए नक्सलियों की पहचान होती जा रही है। 29 में से 4 मोहला-मानपुर जिले में सक्रिय थे। इनमें दो महिलाएं और दो पुरुष मारे गए हैं। 

एनिश पुरी गोस्वामी - मोहला। छत्तीसगढ़ के मोहला-मानपुर जिले में सक्रिय 12 लाख के इनामी चार नक्सली भी कांकेर जिले के कलपर में हुई मुठभेड़ में मारे गए हैं। पुलिस ने नक्सलियों की पहचान कर ली है। मारे गए नक्सलियों में दो पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। 

पुलिस के मुताबिक, कुछ और नक्सलियों की शिनाख्ती की जा रही है। गोली लगने से नक्सलियों की पहचान नहीं हो पा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक मारे गए नक्सलियों में विनोद घावडे, राकेश, रीता सलामे और हिड़मे मरकाम की पुलिस ने पहचान कर ली है। कांकेर में मोहला-मानपुर से आत्मसमर्पित नक्सलियों की एक टीम पहचान के लिए पहुंची थी। चार नक्सलियों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है। 

list

विनोद घावडे, रीता सलामे पर था 5-5 लाख का इनाम 

मिली जानकारी के मुताबिक मारे गए नक्सलियों में विनोद घावडे और रीता सलामे पर 5-5 लाख रुपए का इनाम था। वहीं हिड़मे मरकाम और राकेश पर एक-एक लाख रुपए का इनाम घोषित था। ये लंबे समय से संयुक्त रूप से मोहला, मदनवाड़ा और औंधी क्षेत्र में सक्रिय थे। सूत्रों का कहना है कि, राजनांदगांव-कांकेर बार्डर डिवीजन के नक्सलियों को माड़ में एक अहम मीटिंग में शामिल होने के लिए बुलाया गया था। जिसमें उत्तर बस्तर डिवीजन के अलग-अलग क्षेत्रों के कुख्यात नक्सली भी मौजूद थे।

पुलिस को लंबे समय से थी इनकी तलाश

बताया जा रहा है कि, मोहला मानपुर अंबागढ़ चौकी जिले के नक्सलियों के मारे जाने से इस इलाके में शांति कायम करने में आसानी होगी। इन नक्सलियों की स्थानीय पुलिस को लंबे समय से तलाश थी। पुलिस घटना से जुड़े अन्य तथ्यों की भी जानकारी जुटा रही है।

5379487