Logo
election banner
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित वनांचल मोहला, मानपुर, अंबागढ़-चौकी जिले के मूल निवासी जेआर ठाकुर को आईपीएस अवार्ड होने पर आदिवासी समाज ने बधाई दी है।

एनिशपुरी गोस्वामी- मोहला। मोहला, मानपुर, अंबागढ़-चौकी जिले के ग्राम पंचायत ककईपार के मूल निवासी पुलिस अधीक्षक रेलवे रायपुर, जेआर ठाकुर सहित प्रदेश के 7 अफसरों को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आईपीएस अवार्ड दिया है। पुलिस अधीक्षक रेलवे जेआर ठाकुर के आईपीएस अवार्ड होने पर इस वनांचल क्षेत्र में हर्ष व्याप्त है। 

आदेश का PDF देखने के लिए इस link पर click करें..

https://images.haribhoomi.com/uploadimage/library/free_files/pdf/Chhatt_2024_02_23_021438.pdf

श्री ठाकुर को आईपीएस अवार्ड होने पर पुलिस विभाग के अलावा आदिवासी समाज के लोगों तथा उनके मित्रों एवं शुभचिंतकों ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। उल्लेखनीय है कि जेआर ठाकुर नव गठित मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी के सुदूर ग्राम ककईपार के मूल निवासी हैं। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ग्राम ककईपार एवं गोटाटोला में करने के पश्चात् शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मोहला से हायर सेकण्डरी परीक्षा उत्तीर्ण की है। इसके पश्चात् उन्होंने शासकीय पोस्ट मेट्रिक आदिवासी छात्रावास राजनांदगांव में रहकर शासकीय महाविद्यालय राजनांदगांव में एमए समाज शास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की है।

सहायक प्राध्यापक भी रहे

 वे सन् 1987 में राज्य लोक सेवा आयोग के माध्यम से सहायक प्राध्यापक के पद पर चयनित होकर सन् 1998 तक शासकीय दाऊ कल्याण सिंह महाविद्यालय बलौदाबाजार में एक उत्कृष्ट प्राध्यपाक के रूप में अपनी सेवाएं दी है। इसके पश्चात् वे सन् 1998 में मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के माध्यम से उप पुलिस अधीक्षक के पद पर चयनित होकर उप पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सेनानी सहित गरियाबंद के पुलिस अधीक्षक के रूप में अपनी सराहनीय सेवाएं दी है। वर्तमान में वे एसपी रेलवे के पद पर रायपुर में पदस्थ हैं।

क्षेत्रवासियों ने उज्जवल भविष्य की कामना की

श्री ठाकुर के भारतीय सेवा के अधिकारी के रूप में आईपीएस अवार्ड होने पर आदिवासी छात्रावास के भूतपूर्व अध्यक्ष एवं वित्त नियंत्रक तिलक सोरी, भूतपूर्व छात्र एवं चीफ इंजीनियर मर्चेंट नेवी हीरेसिंह घावड़े, जगत सलामे, जनसंपर्क अधिकारी चन्द्रेश ठाकुर, छात्रावास एलुमिनी के अध्यक्ष अरविंद गोटे, पवन तुलावी, लालदेव तारम, भूपेंद्र मण्डावी, राममिलन रावटे, गौरीशंकर भुआर्य, देवशंकर तारम, लखन सोरी, पुरूषोत्तम मण्डावी, गुलशन सलामे,  महेश पडोती, चंद्रशेखर बघेल, धर्मेंद्र पौसार्य, बिश्राम पिस्दा, मनोज चंद्रवंशी, बिट्टू कोमरे सहित छात्रावास के भूतपूर्व एवं वर्तमान विद्यार्थियों के अलावा आदिवासी समाज के लोगों ने उनकी उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

jindal steel Ad

Latest news

5379487