Logo
KKR vs SRH IPL 2024 Final Highlights : कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल 2024 के फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर तीसरी बार आईपीएल का खिताब जीत लिया है। केकेआर की जीत में मिचेल स्टार्क और आंद्रे रसेल का अहम रोल रहा। आइए जानते हैं इनके अलावा किसी ने जीत में अहम रोल निभाया।

KKR vs SRH IPL 2024 Final Highlights : कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल की खिताबी हैट्रिक पूरी कर ली। फाइनल में कोलकाता ने हैदराबाद को एकतरफा अंदाज में हराया। मैच में हैदराबाद के कप्तान पैट कमिंस ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। अबतक पहले बैटिंग करते हुए एकतरफा अंदाज में विरोधियों के छक्के छुड़ाने वाली हैदराबाद के बल्लेबाज चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम की पिच पर टिक नहीं सके और 113 रन पर ही हैदराबाद की पूरी टीम ऑलआउट हो गई। ये आईपीएल फाइनल का सबसे छोटा स्कोर है। 

आइए जानते हैं कि केकेआर की जीत में किन खिलाड़ियों का सबसे बड़ा हाथ रहा। 

आंद्रे रसेल- हीरो नंबर- 1
कोलकाता नाइट राइडर्स को तीसरी बार आईपीएल का चैंपियन बनाने में आंद्रे रसेल का बड़ा हाथ है। उन्होंने फाइनल में कमाल की गेंदबाजी की। रसेल ने 2.3 ओवर में 19 रन देकर 3 विकेट झटके। उनके खिलाफ हैदराबाद के बल्लेबाज सिर्फ एक चौका और एक छक्का मार पाए। रसेल ने 7 डॉट बॉल फेंकी। उन्होंने एडेन मार्करम, अब्दुल समद और हैदराबाद के कप्तान पैट कमिंस के अहम विकेट हासिल किए। पूरे टूर्नामेंट में उन्होंने 15 मैच में 19 विकेट लिए और 220 से अधिक रन भी बनाए। 

पैट कमिंस- हीरो नंबर-2
पैट कमिंस को जब कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल की नीलामी में 24.75 करोड़ में खरीदा था तो सबने इसका मजाक उड़ाया था। स्टार्क के पिछले प्रदर्शन की दुहाई देकर केकेआर के इस कदम को गलत ठहराया गया था। आईपीएल के पहले दो मैच में तो स्टार्क को विकेट भी नहीं मिला था। लेकिन, इसके बाद उन्होंने ऐसा गियर बदला कि क्वालिफायर-1 में 3 शिकार किए और फिर हैदराबाद के खिलाफ फाइनल में भी 2 विकेट हासिल कर केकेआर को तीसरी बार चैंपियन बनाया। 

श्रेयस अय्यर- हीरो नंबर-3
केकेआर की जीत में कप्तान श्रेयस अय्यर का भी अहम रोल रहा है। आईपीएल से पहले अय्यर सवालों के घेरे में थे। उनकी फिटनेस पर सवाल थे। उन्हें टीम इंडिया से भी बाहर कर दिया गया था। साथ ही विश्व कप में 500 से अधिक रन बनाने वाले इस बैटर को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से भी बाहर कर दिया गया था। लेकिन श्रेयस ने चुपचाप अपने खेल पर ध्यान दिया और पिछले सीजन 7वें स्थान पर रहने वाली टीम को चैंपियन बना दिया। उन्होंने इस सीजन में मध्य क्रम में आकर 345 से अधिक रन बनाए। 

सुनील नारायण-हीरो नंबर-4
सुनील नारायण भी केकेआर को तीसरी बार चैंपियन बनाने के अहम शिल्पकार हैं। नारायण ने गेंद के साथ-साथ बल्ले से कोहराम मचा दिया। उन्होंने फाइनल में भी किफायती गेंदबाजी की और 4 ओवर में सिर्फ 16 रन देकर 1 विकेट हासिल किया। उन्होंने पूरे सीजन में 15 मैच में 488 रन बनाए, जो केकेआर के लिए सबसे ज्यादा हैं। उन्होंने 15 मैच में कुल 17 विकेट भी लिए। 

jindal steel Ad
5379487