Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खुशखबरी! आधार कार्ड को लेकर हुए बड़े बदलाव, अब नहीं देना होगा कोई नंबर

आधार डाटा लीक होने की खबरों के चलते सरकार अब इसकी सुरक्षा के लिए कुछ बदलाव करने की तैयारी में है।

खुशखबरी! आधार कार्ड को लेकर हुए बड़े बदलाव, अब नहीं देना होगा कोई नंबर

आधार डाटा लीक होने की खबरों के चलते सरकार अब इसकी सुरक्षा के लिए कुछ बदलाव करने की तैयारी में है। UIDAI अब हर आधार कार्ड की एक वर्चुअल आईडी तैयार करने की शुरुआत करने जा रहा है। इसके तहत आपको जहां आधार नंबर देने की जरुरत पड़ेगी, वहां ये 16 नंबर की वर्चुअल आईडी काम करेगी।

UIDAI के मुताबिक, ये सीमित केवाईसी होगी। इससे जुड़ी हुई एजेंसियों को भी आधार डिटेल की एक्सेस नहीं होगी। एजेंसियां केवल वर्चुअल आईडी के जरिए सारा काम निपटा सकेंगी। कहा जा रहा है कि इससे आधार की सुरक्षा बढ़ जाएगी।

यह भी पढ़ें- दुनियाभर में वेश्यावृत्ति के लिए मशहूर है ये शहर, जिस्मफरोशी के साथ होते है कई गैर-कानूनी धंधे

खुद जारी कर सकेंगे वर्चुअल ID

UIDAI इस बदलाव के साथ ये सुविधा भी देगा कि आप खुद अपनी वर्चुअल आईडी बना सकें। इसके जरिए आप अपनी मर्जी के मुताबिक एक नंबर चुनकर सामने वाली एजेंसी को सौंप सकते हैं।

वर्चुअल आईडी खुद क्रिएट करने से एक फायदा होगा कि यूजर को अपना नंबर आसानी से याद रहेगा। इस सुविधा से आधार कार्ड की डिटेल भी सुरक्षित रहेगी और नंबर आपको याद भी रहेगा।

बिना आधार नंबर के हो सकेगा वेरिफिकेशन

1 जून 2018 से वर्चुअल आईडी की सुविधा होने के बाद एजेंसी आधार वेरिफिकेशन के काम को आसानी से पेपरलेस तरीके ले कर पाएगी। इससे सबसे अच्छा ये होगा कि एजेंसी बिना आपके आधार नंबर तक पहुंचे, इससे जुड़ा हर काम कर पाएगी।

2 श्रेणियों में बंटेगी एजेंसियां

UIDAI सभी एजेंसियों को दो श्रेणियों में बांट देगी, जिसमें से एक स्थानीय और दूसरी वैश्व‍िक श्रेणी होगी। इन एजेंसियों को उनके काम के मुताबिक इन श्रेणियों में शामिल किया जाएगा।

वेरीफिकेशन के लिए मिलेगा टोकन

जानकारी के मुताबिक, UIDAI हर आधार नंबर के लिए एक टोकन जारी करेगा। इस टोकन के जरिए ही एजेंसियां आधार डिटेल को वेरीफाई कर पाएंगी। ये टोकन नंबर हर आधार नंबर के लिए अलग-अलग होगा।
Next Story
Share it
Top