Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एसआईटी ने अक्षय कुमार को चंडीगढ़ में पेश होने का विकल्प दिया

पंजाब में 2015 में गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी संबंधी घटनाओं के खिलाफ प्रदर्शन करने वाली भीड़ पर पुलिस गोलीबारी की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार को बुधवार को अमृतसर की बजाय चंडीगढ़ में पेश होने का विकल्प दिया है। पंजाब पुलिस एसआईटी ने इससे पूर्व अक्षय को 21 नवम्बर को अमृतसर सर्किट हाउस में बुलाया था।

एसआईटी ने अक्षय कुमार को चंडीगढ़ में पेश होने का विकल्प दिया
X

पंजाब में 2015 में गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी संबंधी घटनाओं के खिलाफ प्रदर्शन करने वाली भीड़ पर पुलिस गोलीबारी की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार को बुधवार को अमृतसर की बजाय चंडीगढ़ में पेश होने का विकल्प दिया है। पंजाब पुलिस एसआईटी ने इससे पूर्व अक्षय को 21 नवम्बर को अमृतसर सर्किट हाउस में बुलाया था।

एसआईटी के सदस्य और पुलिस महानिरीक्षक कुंवर विजय प्रताप सिंह ने मंगलवार को बताया,‘‘हमने उन्हें (अक्षय कुमार) यहां (चंडीगढ़) में पेश होने की छूट दी है।' बेअदबी की घटनाओं पर न्यायमूर्ति रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट में अक्षय का नाम आया था।
अक्षय, पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के बीच किसी तरह की कोई बैठक कराने से पहले ही इनकार कर चुके है। अभिनेता ने इस बात से भी इनकार किया है कि वह डेरा प्रमुख से कभी मिले थे।
गुरमीत इस समय बलात्कार के दो मामलों में 20 साल की जेल की सजा काट रहा है।
एसआईटी ने अक्षय के साथ पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और शिअद के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल को भी बुलाया था। एसआईटी प्रकाश सिंह बादल और उनके पुत्र सुखबीर सिंह बादल से चंडीगढ़ में पहले ही पूछताछ कर चुकी है।
सुखबीर ने सोमवार को एसआईटी सदस्यों को बताया था कि वह पंजाब के बाहर कभी भी अक्षय से नहीं मिले हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story