Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खुलासा: अय्याश बाबा रात के लिए चुनता था 10 लड़किया, दर्ज होता था महिलाओं के पीरियड्स का रिकॉर्ड

वीरेंद्र देव अपने अनुयायियों को कहता था कि वह भगवान है और 2020 में दुनिया खत्म हो जाएगी।

खुलासा: अय्याश बाबा रात के लिए चुनता था 10 लड़किया, दर्ज होता था महिलाओं के पीरियड्स का रिकॉर्ड

धर्म के नाम पर घिनौना काम करने वाले बाबाओं के बारे में तो आपने खूब सुना होगा। अब इसी लिस्ट में एक दिल्ली का अय्याश बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित सामने आया है जिसे पुलिस अबतक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। इस बाबा के बारे में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं।

इसके आश्रम में 2.30 बजे रात को लड़कियों को उठा दिया जाता था और नहलाकर टीवी के जरिए बाबा का उपदेश सुनाया जाता था। आश्रम में आने के बाद बाबा रात के लिए 8-10 लड़कियों को चुनता और फिर गुप्त प्रसाद के नाम पर कमरे में ले जाया करता। ये गुप्त प्रसाद सेक्स का कोड वर्ड था।
आश्रम में एक रेजिस्टर भी था जिसमें महिलाओं के मासिक धर्म का पूरा रिकॉर्ड रहता था। वीरेंद्र के एजेंट अनुयायियों को पहले ये लगता था कि ब्रह्म कुमारी के संस्थापक लेखराज कृपलानी की आत्मा वीरेंद्र देव में वास करती है। वीरेंद्र देव दीक्षित के एक अनुयायी ने बताया कि अनुयायियों को सभी नियमों का पालन करना पड़ता था। नियमों के बारे में सुनकर कोई भी हैरान रह जाएगा। जैसे अपने साथी से सेक्स न करें, सादा भोजन करें, सामाजिक आयोजनों व लोगों से दूर रहें।

वीरेंद्र देव अपने अनुयायियों को कहता था कि वह भगवान है और 2020 में दुनिया खत्म हो जाएगी। वह लोगों से कहता था कि अगर वो जिंदा रहना चाहते हैं तो उन्हें डोनेशन के रूप में कुछ कुर्बान करना पड़ेगा। एक महिला ने तो ये आरोप भी लगाया कि उनका रेप किया गया और वो आश्रम में सेवादार के रूप में रहती थीं।
महिला के मुताबिक उसने आश्रम के लिए 10 बिघा जमीन बेची और 10 लाख रुपए दिए। उन्होंने 2007 में अपनी बेटी को भी आश्रम के लिए समर्पित कर दिया। वीरेंद्र आध्यात्मिक शिक्षा के नाम पर नाबालिग लड़कियो को लाता था। शुरू में उन्हें अपने गृहराज्य से दूर करता था ताकि वो परिवार से कम से कम संपर्क में रहें।
शुरू में माता-पिता अपनी बेटियों से कभी-कभी मिल पाते थे। धीरे-धीरे संपर्क खत्म होता गया। माता-पिता बच्चियों से फोन पर भी बात नहीं कर पाते थे।
Next Story
Share it
Top