Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

INDEPENDENCE DAY- देश के विकास में बेटियों का हाथ: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लालकिले से पहले भाषण को यादगार बनाने के लिए जोरदार तैयारियां की गई हैं।

INDEPENDENCE DAY- देश के विकास में बेटियों का हाथ: पीएम मोदी

नई दिल्‍ली. देश के 68वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले पर झंडा फहराया। लाल किले की प्राचीर से पहली बार देश को संबोधित करते हुए मोदी ने देशवासियों को स्‍वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह करीब 7.20 बजे लाल किले पहुंचे। यहां उन्हें तीनों सेनाओं की मिली-जुली टुकडी गार्ड ऑफ ऑनर दिया। 7:30 बजे प्रधानमंत्री ने तिरंगा फहराया और उसके बाद वह राष्ट्र को संबोधित किया।

देशवासियों को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि-

-मैं पड़ोसी देशों से मिल जुलकर लड़ाई लड़ने सहयोग चाहता हूं।

-हमें मरने मारने की दुनिया को छोड़कर गरीबी को परास्त करना है।

-जेपी नारायण की जयंती पर संसद आदर्श ग्राम योजना का ब्लूप्रिंट शुरू किया जाएगा।

-टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सार्थक प्रयास किये जाएंगे।

-संसद आदर्श गांव योजना शुरू की जाएगी।

-स्कूलों में लड़की-लड़कों के लिए अलग टॉयलेट।

-स्वच्छ भारत का अभियान चलाना है।

-हमने सबसे पहले आकर सफाई की। गांधी जी को भी सबसे प्रिय सफाई थी।

-मैं दुनिया की ताकतों से कहना चाहता हूं कि आइए भारत में निर्माण कीजिए (कम, मेक इन इंडिया)।

-मोबाइल से गवर्नेंस की सुविधा दिलाना है। हमारा सपना है डिजिटल इंडिया।

-हर एक नौजवान को उद्योग धंधों में बढ़ाना होगा।

-देश के छोटे उद्योग को आगे बढ़ाना होगा।

-हमारा देश विश्व का सबसे नौजवान देश है। क्या हमने कभी इसका फायदा उठाने का सोचा।

-जॉब क्रियेटर नौजवानों को तैयार करना प्राथमिकता। ऐसे नौजवानों को स्किल डेवलप के जरिये तैयार किया जाएगा।

-कार्ड धारकों को मिलेगा एक लाख बीमा लाभ।

-प्रधानमंत्री जन-धन योजना से हम करोड़ों गरीब लोगों के बैंक में खाते खुलवाने हैं।

-देश की आन बान शान में बेटियों का हाथ।

-बेटी से तो मां-बाप सैकड़ों सवाल पूछते हैं, पर क्या बेटों ये सवाल पूछते हैं। आखिर बलात्कार करने वाला किसी का तो बेटा है।

-देश में बलात्कार की घटनाएं होती हैं तो हमारा माथा शर्म से झुक जाता है

-मैं प्रधानमंत्री के रूप में नहीं बल्कि प्रधान सेवक के रूप में आया हूं।' उन्‍होंने कहा कि हमारे देश को नेताओं ने नहीं नहीं, शासकों ने नहीं बल्कि किसानों और मजदूरों ने बनाया है।

-भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई के शहीदों को मैं सलाम करता हूं।

-हम एक साथ चलें, एक साथ सोचें और राष्‍ट्र को आगे बढ़ाने के लिए एक साथ प्रतिबद्ध हों।

-मेरी बातों को राजनीति के तराजू से ना तौला जाए।

-हम केवल जनाधार के आधार पर आगे नहीं बढ़ना चाहते, बल्कि आपसी सहमति से आगे बढ़ना चाहते हैं।

-मैंने कोशिशें शुरू की हैं दीवारों को गिराने की और सरकार को एक लक्ष्य, एक मन व एक गति की बनाने की।

-हम बहुमति के बल पर चलने वाले लोग नही हैं, हम सहमति से आगे बढ़ने वाले लोग हैं।

-यह देश राजनेताओं, शासकों, सरकारों ने नहीं बनाया है। यह देश मजदूरों, किसानों, माताओं-बहनों और वैज्ञानिकों ने बनाया है।

-हम बहुमति के बल पर चलने वाले लोग नही हैं, हम सहमति से आगे बढ़ने वाले लोग हैं।

-मां बाप जिस तरह बेटी से पूछताछ करते हैं क्या उस तरह बेटी से भी करते हैं।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लाल किले से पहले भाषण को यादगार बनाने के लिए जोरदार तैयारियां की गई हैं। पहली बार करीब 10,000 आम लोगों के बैठने के लिए कुर्सियों का इंतजाम किया गया है जबकि इससे पहले सिर्फ स्कूली बच्चों, सांसदों, राजनयिकों और सरकारी अधिकारियों को ही आमंत्रित किया जाता रहा है। स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान लालकिले और इसके आसपास के इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था बेहद कडी रखी जाएगी। दिल्ली पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के करीब 10,000 सुरक्षाकर्मी निगरानी के लिए तैनात रहेंगे।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, सुरक्षा के हैं पुख्‍ता इं‍तजाम
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Top