Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोदी ने पटेल की मूर्ति के निकट पूर्व राजपरिवारों का आभासी संग्रहालय बनाने का प्रस्ताव दिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के निकट सरदार पटेल के नेतृत्व में भारत की एकता के लिये अपनी रियासतों का ‘‘त्याग'''' करने वाले पूर्व राजपरिवारों की याद में एक ‘‘आभासी (वर्चुअल) संग्रहालय'''' बनाने का सुझाव दिया।

मोदी ने पटेल की मूर्ति के निकट पूर्व राजपरिवारों का आभासी संग्रहालय बनाने का प्रस्ताव दिया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के निकट सरदार पटेल के नेतृत्व में भारत की एकता के लिये अपनी रियासतों का ‘‘त्याग'' करने वाले पूर्व राजपरिवारों की याद में एक ‘‘आभासी (वर्चुअल) संग्रहालय'' बनाने का सुझाव दिया।
गुजरात के नर्मदा जिले में देश के पहले गृह मंत्री की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का अनावरण करते हुए मोदी ने कहा कि भारत में शामिल होने वाली 550 रियासतों के पूर्व रजवाड़ों के बलिदान के सम्मान में एक आभासी संग्रहालय का निर्माण होना चाहिए।
सरदार सरोवर बांध के निकट एक छोटे से टापू - साधु बेट- पर बनी इस विशाल प्रतिमा की ऊंचाई अमेरिका स्थित स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से दोगुनी है और 153 मीटर ऊंचे चीन के स्प्रिंग टेंपल बुद्ध से भी विशाल है।
उन्होंने कहा, ‘‘हमें इन रियासतों के तत्कालीन शासकों के बलिदान को नहीं भूलना चाहिए जिन्होंने देश के एकीकरण के सरदार पटेल के आह्वान के सम्मान में अपनी रियासतों के भारत में विलय पर सहमति दी।
मोदी ने कहा कि मेरा सपना है कि 550 तत्कालीन रियासतों के शासकों का एक आभासी संग्रहालय बनना चाहिए। उन्होंने देश की एकता के लिये एक पहल की। यह (संग्रहालय) अगली पीढ़ी को (उनके बलिदान को) समझने में मदद करेगा। इन शासकों ने अपनी समूची संपदा राष्ट्र को दे दी। हमें उनको भी याद करना चाहिए।''
Next Story
Top