Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राम जन्मभूमि पर नहीं बनाई जा सकती मस्जिद: सुब्रमण्य स्वामी

बाबरी मस्जिद का निर्माण मुगल शासक बाबर ने 1528 में कराया था।

राम जन्मभूमि पर नहीं बनाई जा सकती मस्जिद: सुब्रमण्य स्वामी
X

अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए शुरू हुई सुलह की कोशिशों के बीच भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने बड़ा बयान दिया है। मंगलवार को उन्होंने कहा कि मस्जिद कहीं भी बनाई जा सकती है पर राम जन्मभूमि पर नहीं।

यह भी पढ़ें- गाजियाबाद: हिंडन एयरबेस में घुसा संदिग्‍ध, सुरक्षाकर्मियों ने मारी गोली

स्वामी ने कहा, 'मस्जिद तो कहीं भी बनाई जा सकती है, यहां नमाज पढ़ा जाता है। सऊदी अरब में मस्जिदों को तोड़ा गया है और शिफ्ट भी किया गया है। उसी प्रकार से भारत में भी बाबरी मस्जिद को आंबेडकर नगर जिले की सीमा पर शिफ्ट किया जाएगा, जहां बड़ी संख्या में मुस्लिम आबादी रहती है।

यह भी पढ़ें- शर्मनाक: स्कूल परिसर में लड़की को नग्न करके बनाई वीडियो, मामला दर्ज

उन्होंने आगे कहा, 'यहां 40 हजार मंदिरों को तोड़ा गया। हम सभी के लिए नहीं कह रहे हैं। हम केवल तीन की बात कह रहे हैं-मथुरा में कृष्ण का, अयोध्या में राम का और वाराणसी में काशीविश्वनाथ का मंदिर'।

गौरतलब है कि ताजा घटनाक्रम के तहत आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर अयोध्या जाने वाले हैं। 16 नवंबर को वह राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सभी पक्षकारों से बात करेंगे। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने सुझाव दिया था कि इस विवाद को कोर्ट के बाहर बेहतर तरीके से सुलझाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें- सीडी कांड पर बोले हार्दिक कहा- कोई बात नहीं, यह चुनाव का समय है, हर किसी को आरोप लगाने का अधिकार है

लंबे समय से अटके इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट 5 दिसंबर से अंतिम सुनवाई शुरू करेगा। यह तारीख काफी मायने रखती है क्योंकि एक दिन बाद ही विवादित ढांचा गिराए जाने की घटना को 25 साल पूरे हो जाएंगे।

बाबरी मस्जिद का निर्माण मुगल शासक बाबर ने 1528 में कराया था। हालांकि हिंदुओं का दावा है कि वहां पहले भगवान राम का भव्य मंदिर था, जिसे तोड़कर मस्जिद का निर्माण किया गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top