logo
Breaking

पहले ही ट्रायल में T-18 ट्रेन के कई पुर्जों ने छोड़ा धुआं, रेलवे अधिकारियों ने बताया अफवाह

भारतीय रेल की सेवा के लिए हाल ही में शामिल हुई ट्रेन T-18 अपने पहले ही ट्रायल में फेल हो गई। ट्रायल के दौरान इंजन के कई पुर्जे जल गए। चेन्नई के जिस इंटीग्रल कोच फैक्ट्री में बिना इंजन वाली ट्रेन की टेस्टिंग की जा रही थी वहां हाईवोल्टेज के कारण ट्रेन के पुर्जे जल गए।

पहले ही ट्रायल में T-18 ट्रेन के कई पुर्जों ने छोड़ा धुआं, रेलवे अधिकारियों ने बताया अफवाह
भारतीय रेल की सेवा के लिए हाल ही में शामिल हुई ट्रेन T-18 अपने पहले ही ट्रायल में फेल हो गई। ट्रायल के दौरान ट्रेन के कई पुर्जे जल गए। चेन्नई के जिस इंटीग्रल कोच फैक्ट्री में बिना इंजन वाली ट्रेन की टेस्टिंग की जा रही थी वहां हाईवोल्टेज के कारण ट्रेन के पुर्जे जल गए। हालांकि रेलवे के अफसरों ने ऐसी किसी भी घटना से इंकार किया है।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस हादसे के बाद T-18 में अलग से इंजन लगाकर चेन्नई से दिल्ली के सफदरगंज स्टेशन लाया गया। बताया जा रहा है कि ट्रेन का ट्रायल चेन्नई मंडल के अन्नागार के पास हो रहा था उसी समय हादसा हुआ। वहीं रेलवे के अधिकारियों ने बताया है कि यह केवल एक अफवाह है। ऐसी कोई भी घटना नहीं हुई है।
मुरादाबाद और सहारनपुर के बीच इस ट्रेन का ट्रायल किया जाएगा। रेलवे के अधिकारियों ने बताया है कि ट्रेन को दिल्ली सही सलामत हालत में लाया गया है। टी 18 भारतीय रेल की एक महत्वाकांक्षी ट्रेन है। जिससे की भारतीय रेल को ढेरों उम्मीदे हैं। यह देश की पहली ऐसी ट्रेन है जो बिना इंजन के चलेगी।
मतलब इस ट्रेन में अलग से इंजन का डिब्बा नहीं होगा बल्कि डायनामिक कोच होगा। इसमें कई कोच ऐसे हैं जो सेल्फ पावर्ड हैं। बताया जा रहा है कि जब यह ट्रेन शुरू हो जाएगी तो यह शताब्दी की जगह लेगी।
Loading...
Share it
Top