Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अजीत डोभाल को डोकलाम विवाद सुलझाने की जिम्मेदारी मिली

सरकार ने डोकलाम पर पीछे न हटने का फैसला शुक्रवार शाम होने वाली सर्वदलीय बैठक से पहले लिया।

अजीत डोभाल को डोकलाम विवाद सुलझाने की जिम्मेदारी मिली

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिहं के घर सरकार की बड़ी बैठक में अहम फैसला लिया गया है। सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को डोकलाम विवाद सुलझाने की जिम्मेदारी दी गई है।

खास बात यह है कि सरकार ने डोकलाम पर पीछे न हटने का फैसला शुक्रवार शाम होने वाली सर्वदलीय बैठक से पहले लिया।

इसे भी पढ़े:- कश्मीर: अब रोज चलेगा आतंक के खिलाफ सेना का ऑपरेशन, नार्थ कश्मीर में 125 आतंकी

डोकलाम विवाद को लेकर राजनाथ सिंह के घर पर बड़ी बैठक हुई जिसमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, वित्त मंत्री अरुण जेटली, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल सहित गृह और रक्षा मंत्रालयों के बड़े अधिकारी शरीक हुए।

इस बैठक में आतंकी हमले पर भी चर्चा हुई और सुरक्षा में चूक की विवेचना की गई।

इसे भी पढ़े:- भारत-चीन विवाद: एकजुट हुआ पक्ष-विपक्ष, गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर चल रही है सर्वदलीय बैठक खत्म

क्या है डोकलाम विवाद ?

दरअसल डोकलाम जिसे भूटान में डोलम कहते हैं। करीब 300 वर्ग किलोमीटर का ये इलाका चीन की चुंबी वैली से सटा हुआ है और सिक्किम के नाथुला दर्रे के करीब है।

इसलिए इस इलाके को ट्राई जंक्शन के नाम भी जाना जाता है। ये डैगर यानी एक खंजर की तरह का भौगोलिक इलाका है, जो भारत के चिकन नेक यानी सिलिगुड़ी कॉरिडोर की तरफ जाता है।

चीन की चुंबी वैली का यहां आखिरी शहर है याटूंग। चीन इसी याटूंग शहर से लेकर विवादित डोलम इलाके तक सड़क बनाना चाहता है।

इसी सड़क का पहले भूटान ने विरोध जताया और फिर भारतीय सेना ने। भारतीय सैनिकों की इस इलाके में मौजूदगी से चीन हड़बड़ा गया है।

चीन को ये बर्दाश्त नहीं हो रहा कि जब विवाद चीन और भूटान के बीच है तो उसमें भारत सीधे तौर से दखलअंदाजी क्यों कर रहा है।

16 जून से भारत और चीन की सेना के बीच फेसऑफ यानी गतिरोध जारी है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top